कोलकाता में बाहुबली-2 के सेट जैसा बना दुर्गापूजा का भव्य पंडाल, लागत हैरान करने वाली

राजधानी कोलकाता के आयोजकों ने फिल्म 'बाहुबली-2' फिल्म की लोकप्रियता से प्रभावित होकर भव्य माहिष्मती नगरी के सेट की तर्ज पर पंडाल को अंतिम रूप दिया है।

IANS  |   Updated On : September 18, 2017 01:43 PM
कोलकाता में दुर्गापूजा का एक मंडप (प्रतीकात्मक तस्वीर)

कोलकाता में दुर्गापूजा का एक मंडप (प्रतीकात्मक तस्वीर)

ख़ास बातें
  •  फिल्म के भव्य माहिष्मती नगरी के सेट की तर्ज पर पंडाल को अंतिम रूप दिया है, करीब 10 करोड़ रुपये लागत
  •  दूसरा आकर्षण का केंद्र है गर्भाशय के आकार का 28 लाख रुपये का दुर्गा पूजा पंडाल
  •  पूरे शहर में देश की विविधताओं को दिखाने की कोशिश, कोलकाता में करीब 3,000 पूजा पंडाल बनाए जाते हैं

 

नई दिल्ली:  

दुर्गा पूजा शुरू होने में अब कुछ ही दिन बचे हैं, ऐसे में देश के कई राज्यों में पूजा की तैयारी अंतिम चरण में हैं। पश्चिम बंगाल में भी भव्य दुर्गा पूजा पंडालों की तैयारी हर बार की तरह काफी आकर्षक रूप से की गई है।

राजधानी कोलकाता के आयोजकों ने फिल्म 'बाहुबली-2' फिल्म की लोकप्रियता से प्रभावित होकर भव्य माहिष्मती नगरी के सेट की तर्ज पर पंडाल को अंतिम रूप दिया है। करीब 10 करोड़ रुपये के बजट से बन रहे इस पंडाल में देवी सोने के आभूषणों से सजी होंगी।

इस बार महानगर का दूसरा आकर्षण का केंद्र है गर्भाशय के आकार का 28 लाख रुपये का दुर्गा पूजा पंडाल। इसके जरिये आईवीएफ एवं टेस्ट ट्यूब बेबी को दर्शाया जाएगा। इसके अलावा अन्य कई आकर्षक पंडाल भी देखने को मिलेंगे।

कोलकाता में करीब 3,000 पूजा पंडाल बनाए जाते हैं। शहर भगवती दुर्गा और उनकी संतानों का स्वागत करने के लिए तैयार है। यह इतना भव्य और अनोखे रूप में होगा कि देशी और विदेशी दोनों आगंतुक इसे देखकर हैरान रह जाएंगे।

शहर के पूर्वोत्तर में श्रीभूमि स्पोर्टिग क्लब के स्थल पर 100 फुट ऊंचे पंडाल में फिल्म 'बाहुबली-2' की भव्य माहिष्मती नगरी के सेट की झलक देखने को मिलेगी।

क्लब के डी.के. गोस्वामी ने बताया, 'इस फिल्म को मिली लोकप्रियता के मद्देनजर हमने सोचा कि न सिर्फ यह बड़े पैमाने पर भीड़ को आकर्षित करने के लिए, बल्कि भारतीय संस्कृति की विविधता की एक झलक दिखाने के लिए भी उपयुक्त होगा।'

गोस्वामी ने पंडाल का मूल डिजाइन तैयार किया है। पंडाल का प्रवेशद्वार विशाल मेहराब की तरह होगा, जहां सूंड उठाए हाथी पंडाल के स्तंभपाद पर खड़े होंगे। फिल्म के सीक्वल के पोस्टर की तरह अमरेंद्र बाहुबली सूंड के जरिए चढ़ते हुए नजर आएगा।

गोस्वामी ने कहा, 'पूरा पंडाल प्लाइवुड से बना होगा और मूर्ति बहुत विशाल होगी। फिल्म की स्टाइल में देवी सोने के आभूषण में सजी होंगी। यह 10 करोड़ रुपये का है।'

और पढ़ें: Navratri 2017: देखना हो नवरात्रि के विभिन्न रंग तो करें पश्चिम बंगाल से दिल्ली तक का सफर

शहर में पूर्बलोक सर्बोजनीन (सामुदायिक पूजा) पंडाल आईवीएफ और टेस्ट ट्यूब बेबी विषयवस्तु पर आधारित होगा। पूर्बलोक सर्बोजनीन के कुंतल चौधरी ने बताया, 'हमारा मुख्य मकसद प्रक्रिया के संबंध में फैले मिथकों को दूर करना और धोखाधड़ी के बारे में जागरूकता पैदा करना है।'

28 लाख के बजट में बने इस पंडाल का आकार गर्भाशय की तरह है और इसमें 4000 ग्लास टेस्ट ट्यूब, बीकर एवं अन्य सामग्री का इस्तेमाल किया गया है।

बैद्यनाथ चक्रवर्ती सहित अन्य आईवीएफ विशेषज्ञों के इस प्रक्रिया और टेस्ट ट्यूब बेबी से संबंधित सवालों का जवाब देने के लिए उपस्थित रहने की संभावना है।

इस बीच कुमारतुली में शिल्पकारों व मूर्तिकारों के घरों के पास एक 86 वर्षीय मूर्तिकार कुमारतुली सर्बोजनीन भगवती दुर्गा की पुआल और मिट्टी से बनी मूर्तियों को कपड़ों व गहनों से सज्जित कर अंतिम रूप देने में जुटे हैं।

मूर्तिकार बांस, लकड़ी, पुआल और मिट्टी से भगवती की मूर्ति को जीवंत रूप प्रदान करते हैं।

मूर्तिकारों के एक प्रवक्ता बाबू पाल ने कहा, 'हम श्रद्धा के साथ मूर्ति बनाते हैं, क्योंकि हम उन्हें अपनी बेटी की तरह मानते हैं। जब पूजा का समापन होता है और उनका विसर्जन होता है तो वैसा ही महसूस होता है, जब शादी के बाद नई जिंदगी की शुरुआत के लिए आपकी बेटी अपने पति के साथ विदा होती है।'

और पढ़ें: 21 तोपों की सलामी के साथ मार्शल अर्जन सिंह को दी गई अंतिम विदाई

First Published: Monday, September 18, 2017 01:15 PM

RELATED TAG: Durga Puja, Kolkata, Durga Puja 2017, West Bengal, Durga Puja Celebration, Bahubali 2, Durga Puja In Kolkata,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो