BREAKING NEWS
  • कमलेश तिवारी हत्याकांड में आतंकी कनेक्शन पर डीजीपी का बड़ा बयान, बोले- किसी भी संभावना से इंकार नहीं- Read More »
  • कमलेश तिवारी हत्याकांडः 24 घंटे की ट्रांजिट रिमांड पर लखनऊ लाए जाएंगे तीनों आरोपी- Read More »
  • IND vs SA: पहले से ही तय थी दक्षिण अफ्रीका की धुनाई, दोहरे शतक पर जानें क्या बोले रोहित शर्मा- Read More »

'जिंदा' हुआ ओसामा बिन लादेन, समुद्र से निकला उसका 'जिन्न', देखें वायरल फोटो

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 12, 2019 03:51:08 PM
ओसामा बिन लादेन

ओसामा बिन लादेन (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

कभी उसके नाम से पूरी दुनिया खौफ खाती थी. आतंकी संगठन अल कायदा का वो सरगना था. दुनिया का सबसे ताकतवर देश अमेरिका भी उससे डरता था...उस दहशतगर्द का नाम ओसामा बिन लादेन था, जो अब इस दुनिया में नहीं है. 8 साल पहले 2 मई 2011 को आतंक का पर्याय बन चुका ओसामा बिन लादेन को अमेरिकी सैनिकों ने पाकिस्तान के खैबर पखतूनख्वा प्रांत के एबटाबाद में मार गिराया था. एक बार फिर से वो खबरों में हैं.

दरअसल, लंदन में रहने वाले कपल डेब्रा ऑलिवर और मार्टिन को एक सीप मिला है, जिसे पहली नजर में देखने पर ओसामा बिन लादेन के चेहरे जैसा लगता है. 60 साल की डेब्रा को अपने 62 साल के पति मार्टिन के साथ सीप इक्ट्ठा करने का शौक है. शादी के 42वें सालगिरह मनाने के लिए दोनों विनचेल्सी पहुंचे. समुद्र के किनारे डेब्रा सीपियां चुन रही थीं. इस दौरान उनकी नजर एक सीप पर पड़ी, जिसपर किसी का चेहरा उभरा हुआ था.

मेट्रो यूके से बातचीत में डेब्रा ने बताया कि जब उन्‍होंने जमीन पर वह सीप देखा, दोनों पति-पत्‍नी की हंसी छूट गई. यह ऐसा लग रहा था, जैसे कोई छोटा मोमेंटो है. इस सीप को देखने पर ओसामा बिन लादेन का चेहरा याद आ जाता है. उन्होंने कहा कि ऐसा शायद ही कभी होता है कि किसी सीप को देखने पर इंसानी शक्ल दिखाई देता हो, वो भी आतंकी ओसामा बिन लादेन का. यह वाकई जबरदस्त है.

और पढ़ें:6 करोड़ रुपए की कीमती घड़ी बिजनेसमैन की कलाई से चोर ने उड़ाई, वारदात की कहानी उड़ा देगी होश

डेब्रा ने बताया कि सीप को देखते ही पहले तो ऐसा लगा कि ये यीशु की तरह दिख रहा है, लेकिन फिर मैंने ऊपर की ओर पगड़ी देखी. तब मुझे समझ में आया कि मेरी हथेली पर मुझे कौन घूर रहा है. ओसामा बिन लादेन!

बता दें कि 2011 में ओसामा बिन लादेन को मारकर समुद्र में दफना दिया गया था.इस्लामिक परंपरा के तहत किसी भी मुसलमान को मरने के 24 घंटे के अंदर दफनाना जरूरी है. इसलिए अमेरिकी सैनिकों ने उसे समुद्र में ही दफना दिया था.

First Published: Oct 12, 2019 03:50:41 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो