'किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है' नारे पर महिला ने दिया करारा जवाब.. वायरल हुआ वीडियो

News State Bureau  |   Updated On : February 18, 2020 05:59:38 PM
'किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है' नारे पर महिला ने दिया करारा जवाब.. वायरल हुआ वीडियो

वायरल वीडियो में दिख रही महिला (Photo Credit : सोशल मीडिया )

नई दिल्ली:  

देशभर नें चल रहे सीएए और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन अब धीरे-धीरे ठंडे पड़ रहे हैं. सीएए और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए उपद्रवी लोगों ने बंगाल के बाद देश के कोने-कोने में जमकर उत्पात किया और करोड़ों रुपये की सरकारी और गैर-सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाया. दिल्ली के शाहीन बाग में मुस्लिम महिलाएं बीते 2 महीने से भी ज्यादा समय से नोएडा जाने वाली सड़क पर धरना दिए हुई हैं. सीएए और एनआरसी के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों में शाहीन बाग के प्रदर्शन ने सबसे ज्यादा वाहवाही बटोरी. जिसके पीछे की मुख्य वजह बताई गई कि यहां पूर्ण रूप से शांतिपूर्ण धरना दिया जा रहा है.

ये भी पढ़ें- PMC के बाद कर्नाला कोऑपरेटिव बैंक में करोड़ों रुपये का घोटाला, 76 लोगों के खिलाफ FIR

प्रदर्शनकारियों ने शाहीन बाग की मुख्य सड़कों को 'पोडियम' के रूप में तब्दील कर दिया, जो दिल्ली को नोएडा से जोड़ने वाली प्रमुख सड़क है. सीएए और एनआरसी के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर रहे लोगों के मुंह से कई बार 'किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है' नारा सुनने को मिला. बता दें कि ये नारा राहत इंदौरी की एक मशहूर शायरी का हिस्सा है. विरोध प्रदर्शन में इस्तेमाल हो रहे इस नारे पर एक महिला ने करारा जवाब दिया है.

ये भी पढ़ें- अयोध्याः भव्य और विशाल बनेगा राम मंदिर, ट्रस्ट की अहम बैठक में कल होगा फैसला

महिला ने नारे पर जवाब देते हुए कहा कि जो लोग देश को अपनी मां मानते हैं, ये हिंदुस्तान उन्हीं के बाप का है. महिला ने कहा कि जो लोग हिंदुस्तान को अपना देश मानते, वे इस देश में हिंसा, आगजनी और तोड़फोड़ नहीं करते. वीडियो में आप देखेंगे कि महिला ने सीएए और एनआरसी को विरोध कर रहे लोगों पर सवाल उठाए हैं. महिला ने कहा कि सीएए का विरोध करने वाले एक बार भी इस मुद्दे पर बात नहीं करते हैं.

First Published: Feb 18, 2020 05:37:17 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो