उत्तराखंड बस दुर्घटना: सीएम रावत का ऐलान- मृतकों के परिजनों को मिलेगा 2 लाख़ रुपये का मुआवजा, घायलों को 50 हज़ार

सीएम ने ट्वीटर के ज़रिए निर्देश जारी करते हुए कहा कि अगर ज़रूरत पड़े तो घायलों को इलाज़ के लिए अस्पताल तक पहुंचाने में हेलिकॉप्टर की मदद ली जाए।

  |   Updated On : July 01, 2018 01:47 PM
त्रिवेंद्र सिंह रावत, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री

त्रिवेंद्र सिंह रावत, उत्तराखंड के मुख्यमंत्री

नई दिल्ली:  

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पौड़ी गढ़वाल में रविवार सुबह हुए बस हादसे में मरने वाले लोगों के परिजनों के लिए 2-2 लाख़ रुपये के मुआवजे का ऐलान किया है।

इसके अलावा इस दुर्घटना में घायल हुए लोगों के लिए 50 हज़ार रुपये की धनराशि की सहायता का भी ऐलान किया है।

सीएम ने ट्वीटर के ज़रिए निर्देश जारी करते हुए कहा कि अगर ज़रूरत पड़े तो घायलों को इलाज़ के लिए अस्पताल तक पहुंचाने में हेलिकॉप्टर की मदद ली जाए।

गौरतलब है कि रविवार सुबह पौड़ी जिले के धूमाकोट के पास एक बस के गहरी खाई में गिरने से 40 से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई है। बताया जा रहा है कि सभी यात्री पास के गांव से जागरण देखकर वापस लौट रहे थे। बस भौन गांव से रामगढ़ की तरफ जा रही थी तभी बाच में यह सड़क हादास हो गया।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बस में कुल 50 लोग सवार थे जिसमें से 45 लोगों की मौत हो गई है, जबकि अन्य घायल हैं।

वहीं सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मौत के आंकड़ों के लेकर कहा, 'मुझे बताया गया है कि पौड़ी गढ़वाल में हुई इस बस दुर्घटना में 30 लोगों की मौत हुई है। एसडीआरएफ और अन्य एजेंसी घटना स्थल पर जाकर राहत एवं बचाव में लगे हुए है।'

इससे पहले सीएम रावत ने इस बस दुर्घटना पर दुख ज़ाहिर करते हुए कहा, 'पौड़ी जिले के धूमाकोट के पास बस दुर्घटना का समाचार सुन कर गहरा दुख हुआ है; मैंने जिला प्रशासन को तत्काल राहत पहुंचाने के निर्देश दिये हैं। स्थानीय प्रशासन, पुलिस व एसडीआरएफ बचाव कार्य में जुट गए हैं और सभी ज़रूरी प्रयास किए जा रहे हैं।'

सीएम रावत ने गृहमंत्री राजनाथ सिंह से भी फोन कर घटना की जानकारी दी। रावत ने अपने ट्विटर पेज पर लिखा, 'केंद्रीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह जी को दुर्घटना के बारे मे अवगत कराया है। उन्होंने हर प्रकार की मदद का भरोसा दिया है।'

पीएम मोदी ने भी जताया शोक 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल जिले में एक बस के खाई में गिरने की घटना में मारे गए 45 लोगों के प्रति रविवार को शोक जताया।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर कहा, 'उत्तराखंड के पौड़ी गढ़वाल में हुई बस दुर्घटना से बेहद दुखी हूं। शोकग्रस्त परिवारों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं।'

ट्वीट में आगे कहा गया, 'मैं घायलों के लिए जल्द से जल्द ठीक होने की प्रार्थना करता हूं। बचाव कार्य जारी है और अधिकारी दुर्घटना स्थल पर हरसंभव मदद मुहैया करा रहे हैं।'

क्या है मामला

उत्तराखंड में रविवार को एक बस के 60 मीटर गहरी खाई में गिरने से 42 लोगों की मौत हो गई। पुलिस के मुताबिक, यह दुर्घटना पिपली-भौन सड़क पर क्वीन्स ब्रिज के पास सुबह नौ बजे के आसपास हुई। चालक का बस से नियंत्रण हट गया और यह 28 सीटर बस खाई में जा गिरी।

बस भौन से रामनगर जा रही थी।

इस हादसे में घायल आठ लोगों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया गया जिनमें से चार की हालत गंभीर बताई जा रही है।

राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) के महानिरीक्षक संजय गुंजियाल ने बताया कि घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए हेलीकॉप्टर की मदद ली जा रही है।

और पढ़ें- उत्तराखंड: पौड़ी-गढ़वाल में खाई में गिरी बस, 42 लोगों की मौत, कई घायल

First Published: Sunday, July 01, 2018 12:31 PM

RELATED TAG: Uttarakhand, Bus Accident, Pauri Garhwal, Cm Rawat, Ex-gratia, Compensation,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो