उत्तराखंड विधानसभा चुनावः मुख्यमंत्री से लेकर पूर्व मुख्यमंत्री की प्रतिष्ठा दांव पर

राज्य में कुल 70 सीटों हैं लेकिन 69 सीटों पर ही वोटिंग हो रहा है। कुल 637 प्रत्याशी चुनावी मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं।

  |   Updated On : March 10, 2017 12:59 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

उत्तराखंड विधानसभा चुनाव के लिए आज मतदान जारी है। राज्य में कुल 70 सीटों हैं लेकिन 69 सीटों पर ही वोटिंग हो रहा है। कुल 637 प्रत्याशी चुनावी मैदान में अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। 637 प्रत्याशियों में कुल 575 पुरूष और 60 महिला उम्मीदवार हैं।

उत्तारखंड में एक ही चरण में मतदान हो रहा है। इस चुनाव में मुख्यमंत्री हरीश रावत, बीजेपी नेता सतपाल महाराज, अजय भट्ट, किशोर उपाध्याय, हरक सिंह रावत जैसे नेताओं की किस्मत ईवीएम मशीन में कैद हो जाएगी।

हरीश रावत

राज्य के मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता हरीश रावत इस बार दो सीटों से चुनाव लड़ रहे हैं। रावत हरिद्वार जिले की ग्रामीण सीट और उधमसिंह नगर की किच्छा सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।

किच्छा विधानसभा सीट पर हरीश रावत के खिलाफ बीजेपी के मौजूदा विधायक राजेश शुक्ल, बीएसपी के ठाकुर राजेश प्रताप सिंह और समाजवादी पार्टी के संजय सिंह ताल ठोक रहे हैं।

इसे भी पढ़ेंः कर्णप्रयाग से बीएसपी उम्मीदवार कुलदीप कनवासी की सड़क हादसे में मौत, चुनाल टला

वहीं हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा सीट पर रावत के खिलाफ बीजेपी के मौजूदा विधायक स्वामी यतीश्वरानंद और बीएसपी के विधायक मुकर्रम अंसारी चुनाव मैदान में हैं।

किशोर उपाध्याय

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और वरिष्ठ नेता किशोर उपाध्याय सहसपुर से चुनाव लड़ रहे हैं. साल 2002 और 2007 में वो टिहरी सीट से विधायक चुने गए थे, लेकिन 2012 में दिनेश धनै से हारने के बाद उन्हें सहसपुर सीट दी गई है।

किशोर का मुकाबला इस बार अपने पुराने दोस्त से ही होगा. कांग्रेस से बगावत कर निर्दलीय चुनाव लड़ रहे आर्येंद्र शर्मा उन्हें चुनौती दे रहे हैं।

सतपाल महाराज

बीजेपी के वरिष्ठ नेता सतपाल महाराज चौबट्टाखाल सीट से अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। चौबट्टाखाल इनका गृहक्षेत्र है। इस सीट से बीजेपी के पूर्व अध्यक्ष और मौजूदा विधायक तीरथ सिंह रावत की जगह महाराज को उम्मीदवार बनाया गया है।

इस सीट से दो बार उनकी पत्नी अमृता रावत राज्य विधानसभा का चुनाव जीत चुकी हैं। कांग्रेस से बगावत कर 2014 में बीजेपी का दामन थामने वाले सतपाल महाराज कांग्रेस से लोक सभा सांसद भी रह चुके हैं।

हरक सिंह रावत

कांग्रेस का साथ छोड़ कर बीजेपी में शामिल हुए हरक सिंह रावत कोटद्वार सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। हरक सिंह रावत कांग्रेस के दिग्गज नेता और सरकार में मंत्री रहे हैं लेकिन बीजेपी में शामिल होने के बाद पार्टी उनपर बड़ा दांव भी खेल सकती है।

इसे भी पढ़ेंः उत्तराखंड कांग्रेस ने 24 बागियों को पार्टी से 6 साल के लिए निकाला

रावत के सामने कांग्रेस ने कैबिनेट मंत्री सुरेन्द्र सिंह नेगी को चुनावी मैदान में उतारा है। कोटद्वार नेगी का गृह सीट है और यहां उनकी मजबूत पकड़ मानी जाती है।

अजय भट्ट

बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और पूर्व मंत्री अजय भट्ट रानीखेत से चुनाव लड़ रहे हैं। भट्ट के सामने बीजेपी युवा मोर्चा के पूर्व अध्यक्ष प्रमोद नैनवाल चुनावी मैदान में हैं।

नैनवाल इस बार निर्दलीय उम्मीदवार के रूप चुनावी मैदन में उतरे हैं। पिछले विधानसभा चुनाव में अजय भट्ट को मामूली वोटों के अंतर से जीत मिली थी।

First Published: Wednesday, February 15, 2017 08:20 AM

RELATED TAG: Uttrakhand, Congress, Bjp,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो