अकेले पड़े शिवपाल यादव, मुलामय सिंह यादव के इस कदम से हुआ साफ

समाजवादी पार्टी से अलग होकर अपना अलग दल बनाने वाले शिवपाल यादव के साथ उनके बड़े भाई मुलायम सिंह यादव हमेशा से खड़े नज़र आए हैं।

  |   Updated On : August 31, 2018 09:17 AM

लखनऊ:  

समाजवादी पार्टी से अलग होकर अपना अलग दल बनाने वाले शिवपाल यादव के साथ उनके बड़े भाई और सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव हमेशा से खड़े नज़र आए हैं। राज्य में विधानसभा चुनाव के समय जब अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने पार्टी की कमान अपने हाथ में ले ली थी तब भी मुलायम से सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav) अपने छोटे भाई शिवपाल यादव (Shivpal Yadav) के साथ खड़े दिखाई दिए थे। लेकिन अब जब परिदृश्य पूरी तरह से बदल गया है, पार्टी के पास सत्ता नहीं है, शिवपाल यादव को पार्टी में कोई भी बड़ी जिम्मेदारी नहीं दी गई है, ऐसे में मुलायम सिंह यादव के एक कदम से समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता भले ही खुश हो गए हैं लेकिन शिवपाल यादव के समर्थक निराश हैं।

उल्लेखनीय है कि पिछले काफी समय से शिवपाल यादव अकेले पड़ गए हैं। वे काफी समय से यह प्रयास कर रहे थे कि अखिलेश यादव से उनके संबंध सामान्य हो जाएं, लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। हाल ही में खुद शिवपाल यादव ने इस ओर इशारा भी किया था। उन्होंने कहा था कि वे अखिलेश यादव की ओर से किसी बड़ी जिम्मेदारी दिए जाने का इंतजार कर रहे हैं। लेकि ऐसा हुआ नहीं।

बता दें कि अमर सिंह पर भी अखिलेश यादव ने हमला बोला था और कहा था कि वे चाचा शिवपाल यादव को अलग करना चाहते हैं। अमर सिंह ने जवाब में कहा था कि हां उन्होंने शिवपाल यादव को बीजेपी में लाने की कोशिश की थी, लेकिन वे नहीं माने।

पढ़ें- रामगोपाल यादव के जन्मदिन पर भाई शिवपाल ने खिलाया केक, खत्म हुई कुनबे में कलह!

अब शिवपाल यादव के लिए चुनौती और बड़ी हो गई है. दो दिन पहले ही शिवपाल यादव के सपा छोड़कर समाजवादी सेक्युलर मोर्चा गठित किया है. इसके बाद मुलायम सिंह यादव आज समाजवादी पार्टी कार्यालय पहुंचे थे।

पढ़ें - चाचा शिवपाल को अखिलेश यादव के न्योते का इंतज़ार, कहा- महत्वपूर्ण ज़िम्मेदारी के लिए कर रहा हूं प्रतीक्षा

मुलायम सिंह के पार्टी ऑफिस पहुंचने की खबर के बाद पार्टी के विधायक और पदाधिकारी भी मुलायम सिंह से मिलने पहुंचने लगे।
मुलायम सिंह के समाजवादी पार्टी ऑफिस पहुंचने को इसलिए भी अहम माना जा रहा है क्योंकि इससे ये सन्देश गया है कि मुलायम सिंह, शिवपाल के मोर्चे के साथ नहीं अपने बेटे अखिलेश यादव के साथ हैं।

(समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव)

हालांकि बैठक के बाद मुलायम सिंह यादव ने कहा कि वो विधानमंडल दल के सदस्यों के साथ बैठक करने आये थे और समाजवादी नेता दर्शन सिंह यादव को श्रद्धांजलि भी दी.

 VIDEO - अलग हुए शिवपाल यादव

बैठक के बाद मुलायम सिंह यादव ने कहा कि वे विधानमंडल नेताओं के साथ चर्चा कर विधानसभा में रणनीति पर चर्चा करेंगे.

First Published: Thursday, August 30, 2018 05:41 PM

RELATED TAG: Shivpal Yadav, Mulayam Singh Yadav, Akhilesh Yadav, Samajwadi Party,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो