अयोध्या विवाद: योगी ने श्री श्री के प्रयासों का किया स्वागत, बोले- राम के बगैर कोई काम नहीं हो सकता

अयोध्या विवाद पर आध्यात्मिक गुरु और आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर की कोशिशों पर योगी ने कहा, 'बातचीत को लेकर किया गया कोई भी प्रयास स्वागत योग्य है।'

  |   Updated On : November 14, 2017 01:17 PM
ख़ास बातें
  •  अयोध्या से चुनाव प्रचार शुरू करेंगे योगी, बोले- राम के बगैर भारत में कोई काम नहीं हो सकता है
  •  मुख्यमंत्री योगी ने कहा, राम हमारी आस्था के प्रतीक हैं, भारत की पूरी आस्था के केंद्र बिंदु हैं
  •  अयोध्या विवाद पर रविशंकर की कोशिशों पर योगी ने कहा, प्रयास स्वागत योग्य है

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश निकाय चुनाव के रण के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बिगुल फूंक चुके हैं। वह राम नगरी अयोध्या से चुनाव प्रचार अभियान की शुरुआत करेंगे।

इससे ठीक पहले योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या में संवाददाताओं से बात करते हुए कहा कि राम के बगैर भारत में कोई काम नहीं हो सकता है।

उन्होंने कहा, 'राम हमारी आस्था के प्रतीक हैं, भारत की पूरी आस्था के केंद्र बिंदु हैं।'

अयोध्या विवाद पर आध्यात्मिक गुरु और आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर की कोशिशों पर योगी ने कहा, 'बातचीत को लेकर किया गया कोई भी प्रयास स्वागत योग्य है।'

योगी ने हाल ही में दीपावली के मौके पर अयोध्या का दौरा किया था।

बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और श्रीश्री रविशंकर मुलाकात करेंगे। रविशंकर शिया वक्फ बोर्ड के प्रमुख वसीम रिजवी से मुलाकात कर चुके हैं।

वसीम रिजवी का कहना है कि अयोध्या में मंदिर ही बनना चाहिए कि जबकि मस्जिद को किसी अन्य जगह मुस्लिम बस्ती में बना देना चाहिए, लेकिन इस पर मुसलमानों के सभी वर्ग सहमत नहीं हैं।

योगी की धुंआधार रैलियां

बीजेपी का संकल्पपत्र जारी करने के बाद अब मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने स्थानीय निकाय चुनावों में मतदाताओं को पार्टी के पक्ष में मोड़ने की तैयारी कर ली है। वह धुंआधार 33 रैलियां करेंगे।

और पढ़ें: BJP का संकल्प पत्र, पिंक टॉयलट से लेकर फ्री वाई-फाई तक का वादा

मुख्यमंत्री निकाय चुनावों में बीजेपी प्रत्याशियों के लिए वोट देने की अपील वाली सभाएं विभिन्न जिलों में करेंगे। इसकी शुरुआत वह 14 नवंबर को अयोध्या करेंगे।

अयोध्या में मंगलवार को सभा करने के बाद मुख्यमंत्री योगी गोंडा और बहराइच में भी लोगों को संबोधित करेंगे। इसके बाद 15 नवंबर को कानपुर, 16 नवंबर को अलीगढ़, मथुरा व आगरा, 17 नवंबर को इलाहाबाद, 18 नवंबर को मुजफ्फरनगर, मेरठ और गाजियाबाद के बाद 19 नवंबर को गाजीपुर और देवरिया में मुख्यमंत्री की सभाएं होंगी।

योगी 20 नवंबर को बलरामपुर, बस्ती के बाद गोरखपुर जाएंगे। 21 नवंबर को उनकी सभाएं जौनपुर, बलिया और मऊ होंगी।

योगी आदित्यनाथ 22 नवंबर को वाराणसी और 23 नवंबर को शाहजहांपुर, फरुखाबाद व कन्नौज, 24 नवंबर को झांसी, फतेहपुर और लखनऊ, 25 नवंबर को बाराबंकी, लखीमपुर व बरेली, 26 नवंबर को मुरादाबाद, मंगलवार को अयोध्या में सभा करने के बाद मुख्यमंत्री योगी गोंडा और बहराइच में भी लोगों को संबोधित करेंगे।

और पढ़ें: अखिलेश श्रीकृष्ण की मूर्ति का करेंगे अनावरण, बीजेपी बोली- देर से ही सही सदबुद्धि तो आई

First Published: Tuesday, November 14, 2017 12:12 PM

RELATED TAG: Lord Ram, Yogi Adityanath, Local Body Election, Ayodhya, Sri Sri Ravi Shankar, Ram Temple,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो