IIT कानपुर में रैगिंग, 22 छात्रों को सस्पेंड किया गया

आईआईटी प्रशासन ने इनमें से 16 छात्रों को तीन साल के लिए जबकि छह को एक साल के लिए निष्कासित किया है। इन सभी छात्रों पर अगस्त महीने में फ्रैशर्स से रैगिंग का आरोप लगा था।

  |   Updated On : October 10, 2017 04:57 AM
आईआईटी कानपुर में रैगिंग (प्रतीकात्मक तस्वीर)

आईआईटी कानपुर में रैगिंग (प्रतीकात्मक तस्वीर)

नई दिल्ली:  

भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), कानपुर ने रैगिंग के एक मामले में बड़ी कार्रवाई करते हुए 22 छात्रों को निष्कासित कर दिया है। आईआईटी प्रशासन ने इनमें से 16 छात्रों को तीन साल के लिए जबकि छह को एक साल के लिए निष्कासित किया है।

इन सभी छात्रों पर अगस्त महीने में फ्रैशर्स से रैगिंग का आरोप लगा था। आईआईटी प्रशासन की जांच समिति ने इन दोषी छात्रों के बयान रविवार को रिकॉर्ड किए थे।

क्या थी घटना

कुछ जूनियर छात्रों 19 और 20 अगस्त को आरोप लगाया था कि सीनियर्स ने उनके साथ रैगिंग की है। पहले साल के कुछ छात्रों का यहां तक आरोप था कि जबरन सबके सामने उनके कपड़े उतरवाये गए।

यह भी पढ़ें: पिछले 10 सालों में यूपी पुलिस की गिरफ्त से 742 कैदी फरार

इस शिकायत के बाद आईआईटी, कानपुर प्रशासन ने 9 सदस्यीय जांच दल बनाया जिसमें पांच फैकल्टी मेंबर और चार सदस्य छात्रों के प्रतिनिधि के तौर पर इसमें शामिल थे। इस समिति ने जांच में पाया कि जूनियर छात्रों का आरोप सही है।

यह भी पढ़ें: PHOTOS: करवाचौथ के मौके पर अनिल कपूर के घर उतरा बॉलीवुड का चांद, अभिनेत्रियों का दिखा जलवा

First Published: Tuesday, October 10, 2017 04:52 AM

RELATED TAG: Iit, Kanpur, Ragging,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो