एंटी-रोमियो अभियान लड़कियों की सुरक्षा के लिए महत्वपूर्ण, 15 लाख मनचलों की हुई काउंसिलिंग: ADG

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रवीण कुमार का कहना है कि एंटी रोमियो महिलाओं और उनकी सुरक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण अभियान है।

  |   Updated On : July 14, 2018 09:00 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

यूपी:  

योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनते ही कई बड़े फैसले लिए, जिनमें से एक था 'एंटी रोमियो स्क्वायड'।

अभियान को लेकर भले ही लोगों के विचारों में विरोधाभास हो लेकिन पुलिस का कहना है कि लड़कियों और महिलाओं की सुरक्षा के लिहाज से 'एंटी रोमियो स्क्वायड' एक महत्वपूर्ण अभियान साबित हुआ है।

शनिवार को मीडिया से बात करते हुए अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक प्रवीण कुमार ने कहा कि एंटी रोमियो अभियान महिलाओं और उनकी सुरक्षा के लिए एक महत्वपूर्ण अभियान है।

प्रवीण कुमार ने कहा, 'यह पाया गया है कि कम से कम 15 लाख लोग काउंसिलिंग से गुजरे और 4000 से ज्यादा लोगों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए। अब हमें इस अभियान को ग्रामीण इलाकों तक पहुंचाना है।'

ये भी पढ़ें: झारखंड: मिशनरीज ऑफ चैरिटी की नन ने बेचे 2 बच्चे, कैमरे पर कबूला जुर्म

गौरतलब है कि यूपी में लड़कियों और महिलाओं के साथ हो रही छेड़छाड़ की घटनाओं को देखते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने एंटी रोमियो स्क्वायड का गठन किया था।

इसके तहत जिन-जिन इलाकों से छेड़खानी की शिकायतें आती है, (जैसे- स्कूल, कॉलेज, मार्केट या इंडस्ट्रियल एरिया) वहां पुलिस की टीम सादे कपड़ों या वर्दी में गश्ती करने पहुंच जाती है। इतना ही नहीं पुलिस अगर किसी व्यक्ति को छेड़खानी करते देखती है तो उसे पकड़कर पूछताछ करती है।

ये भी पढ़ें: वैवाहिक दुष्कर्म: कोई क्यों सहे दर्द चुपचाप?

First Published: Saturday, July 14, 2018 07:31 PM

RELATED TAG: Anti-romeo Squad, Uttar Pradesh,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो