अलीगढ़ में WhatsApp के जरिए दिया ट्रिपल तलाक, पीड़िता ने पीएम मोदी से मांगी मदद

ट्रिपल तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के पाबंदी लगाने के बाद भी ऐसे मामले रूकने का नाम नहीं ले रहे हैं। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में संस्कृत के प्रोफेसर खालिन खान पर उनकी पत्नी ने व्हाट्स ऐप के जरिए ट्रिपल तलाक देने का आरोप लगाया है।

  |   Updated On : November 12, 2017 11:40 PM

नई दिल्ली:  

ट्रिपल तलाक पर सुप्रीम कोर्ट के पाबंदी लगाने के बाद भी ऐसे मामले रूकने का नाम नहीं ले रहे हैं। अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी में संस्कृत के प्रोफेसर खालिद खान पर उनकी पत्नी ने व्हाट्स ऐप के जरिए ट्रिपल तलाक देने का आरोप लगाया है। आरोपी प्रोफेसर की पत्नी ने इसके खिलाफ अलगीढ़ के सिविल लाइंस में मामला दर्ज कराया है।

गौरतलब है कि करीब 3 महीने पहले ही सुप्रीम कोर्ट के 5 जजों की संवैधानिक पीट ने ट्रिपल तलाक पर रोक लगा दी थी। अब आरोपी प्रोफेसर की पत्नी यासमीन ने पीएम मोदी से मदद की गुहार लगाई है।

पीड़ित महिला ने धमकी दी है कि अगर उसे इंसाफ नहीं मिला तो वो अपने पति के घर के सामने बच्चों के साथ आत्महत्या कर लेंगी।

यासमीन ने आरोप लगाया कि प्रोफेसर ने उन्हें व्हाट्सऐप और एसएमएस देकर तलाक दे दिया जो पूरी तरह गलत है।

ये भी पढ़ें: देश में नहीं खुलेगा इस्लामिक बैंक, रिजर्व बैंक ने खारिज किया प्रस्ताव

गौरतलब है कि 22 अगस्त को तीन तलाकर पर सुप्रीम कोर्ट के पांच जजों की पीठ ने ट्रिपल तलाक पर फैसला सुनाते हुए इसे बैन कर दिया था।

इस पीठ में पांच में से तीन जजों जस्टिस कुरियन जोसफ, जस्टिस नरीमन और जस्टिस यूयू ललित ने तीन तलाक को असंवैधानिक करार दिया। तीनों ने जस्टिस नजीर और सीजेआई खेहर की राय का विरोध किया। तीनों जजों ने तीन तलाक को संविधान के अनुच्छेद 14 का उल्लंघन करार दिया था।

ये भी पढ़ें: शिया वक्फ बोर्ड का ऐलान, अयोध्या में राम मंदिर पर 5 दिसंबर तक 'फॉर्मूले' के साथ जाएंगे सुप्रीम कोर्ट कोर्ट 

First Published: Sunday, November 12, 2017 07:16 PM

RELATED TAG: Triple Talaq, Yasmeen Khalid, Talaq On Whatsapp,

देश, दुनिया की हर बड़ी ख़बर अब आपके मोबाइल पर, डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज, ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

न्यूज़ फीचर

मुख्य ख़बरे

वीडियो

फोटो