आज से शुरू हो रही है देश की दूसरी प्राइवेट ट्रेन, कितना है किराया और अन्य सुविधाएं, जानिए यहां

News State Bureau  |   Updated On : January 17, 2020 11:08:07 AM
तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express)

तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) (Photo Credit : फाइल फोटो )

नई दिल्ली:  

Indian Railway-IRCTC: देश की दूसरी प्राइवेट ट्रेन (Private Train) तेजस एक्सप्रेस (Tejas Express) आज यानि 17 जनवरी से मुंबई-अहमदाबाद रूट पर चलनी शुरू हो जाएगी. इसके कमर्शियल लॉन्च की तारीख 19 जनवरी तय की गई है. आईआरसीटीसी (IRCTC) ने इस ट्रेन के लिए बुकिंग भी शुरू कर दी है. बता दें कि देश की पहली निजी ट्रेन तेजस एक्‍सप्रेस लखनऊ से दिल्ली के बीच चलती है.

यह भी पढ़ें: बैंकों के काम से खुश नहीं हैं लोग, ये आंकड़े तो यही बताते हैं

अत्याधुनिक सुविआओं से लैस है ट्रेन
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक तेजस एक्सप्रेस में कुल 758 सीट हैं. 758 सीटों में से 56 सीट एक्जीक्यूटिव चेयरकार क्लास और शेष अन्य सीटें एसी (AC) चेयरकार क्लास की हैं. ऐसा माना जा रहा है कि इस ट्रेन की अधिकतम स्पीड 160 किलोमीटर प्रति घंटा होगी. यह ट्रेन अत्याधुनिक सुविधाओं से युक्त है और इसमें बिजली की खपत भी कम होने की उम्मीद की जा रही है.

यह भी पढ़ें: संयुक्त राष्ट्र ने भी भारत की जीडीपी ग्रोथ का अनुमान घटाया, जानें क्या है वजह

यात्रियों को मिलेगा 25 लाख रुपये का इंश्योरेंस
तेजस में सफर करने वाले यात्रियों का मुफ्त में 25 लाख रुपये का रेल यात्रा बीमा होगा. ट्रेन में वाईफाई की सुविधा भी मिलेगी. इसके अलावा इस ट्रेन की सबसे खास बात यह भी है कि इसका फूड मैन्यू मशहूर शेफ द्वारा तैयार किया गया है. इसके अलावा यात्रा के दौरान अगर आपके घर में चोरी हो जाती है तो इंश्योरेंस कंपनी यात्री को 1 लाख रुपये तक देगा. हालांकि उसके लिए यात्री को FIR की कॉपी इंश्योरेंस कंपनी को देना होगा. FIR की कॉपी मिलने के बाद इंश्योरेंस कंपनी अपने स्तर से जांच करेगी और जांच में सही पाए जाने के बाद मुआवजा दे दिया जाएगा.

यह भी पढ़ें: भारतीय कॉटन (Indian Cotton) की एक्सपोर्ट मांग में बढ़ोतरी, जानिए क्या है वजह

ट्रेन लेट होने पर मिलेगा पैसा
अगर किसी कारणवश तेजस लेट हो जाती है तो 1 घंटा लेट होने पर यात्रियों को 100 रुपये दिए जाएंगे. वहीं 2 घंटे से ज्यादा की देरी होने पर 250 रुपये का मुआवजा दिया जाएगा. तेजस एक्सप्रेस के लेट होने की स्थिति में यात्रा वेबसाइट पर मौजूद लिंक के जरिए मुआवजे के लिए फॉर्म भर सकता है. इसके अलावा टोल फ्री नंबर पर कॉल के जरिए भी मुआवजे के लिए दावा किया जा सकता है.

First Published: Jan 17, 2020 11:08:07 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो