BREAKING NEWS
  • AIMPLB बैठक के पीछे बड़ी साजिश, लखनऊ में बैठक इसलिए हुई कि...- Read More »
  • Jharkhand Poll: जमशेदपुर पूर्व सीट पर कांग्रेस और बीजेपी में होगी कांटे की टक्कर- Read More »
  • Jharkhand Poll: पहले चरण की 13 सीटों में से इन 5 सीटों पर दिलचस्प होगा मुकाबला- Read More »

अक्‍टूबर से नई दिल्‍ली-लखनऊ के बीच चलेगी देश की पहली निजी ट्रेन, जानें इसकी खासियत

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 05, 2019 08:44:05 AM
अक्‍टूबर से नई दिल्‍ली-लखनऊ के बीच चलेगी देश की पहली निजी ट्रेन

अक्‍टूबर से नई दिल्‍ली-लखनऊ के बीच चलेगी देश की पहली निजी ट्रेन (Photo Credit : )

नई दिल्‍ली :  

पहली तेजस एक्सप्रेस ट्रेन (Tejas Express Train) नई दिल्ली से लखनऊ (New Delhi to Lucknow) के बीच अक्‍टूबर से चलेगी. यह ट्रेन हफ्ते में 6 दिन चलेगी. एक दिन मंगलवार को छोड़कर यह ट्रेन पूरे हफ्ते चलेगी. पहली तेजस एक्सप्रेस ट्रेन 4 अक्टूबर को लखनऊ से नई दिल्ली के बीच शुरू होगी. दूसरी ओर, मुंबई-अहमदाबाद (Mumbai to Ahmadabad) के बीच चलने वाली तेजस एक्सप्रेस ट्रेन को लेकर अभी अंतिम फैसला नहीं हुआ है.

यह भी पढ़ें : ट्रेन 1 घंटे से अधिक लेट हुई तो मिलेगा मुआवजा, पढ़ें पूरी खबर

रेलवे ने पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर लखनऊ-दिल्ली और मुंबई-अहमदाबाद रूट पर दो ट्रेनें IRCTC को चलाने के लिए दी हैं. शुरुआत में केवल तीन साल के लिए IRCTC इन ट्रेनों का संचालन करेगी. ट्रेन में हवाई जहाज़ जैसी सुविधा देने का दावा किया जा रहा है. इसलिए किराया भी सामान्‍य ट्रेनों के मुकाबले अधिक होगा.

बताया जा रहा है कि मुंबई-अहमदाबाद के बीच केवल सूरत और वडोदरा में इसके स्टॉपेज होंगे. हालांकि IRCTC को आशंका है कि केवल दो स्टॉपेज होने से ट्रेन के लिए यात्रियों को जुटा पाना संभव नहीं होगा. इसलिए IRCTC 5 अतिरिक्त स्टेशनों पर भी इस ट्रेन के स्टॉपेज मांग रही है, जिसमें बोरीवली, वापी, भरूच और नाडियाड स्टेशन भी शामिल हैं.

यह भी पढ़ें : शताब्दी, तेजस और गतिमान एक्सप्रेस के किराये में भारी कटौती कर सकती है मोदी सरकार

डायनेमिक फेयर सिस्‍टम
ये ट्रेनें डायनेमिक फेयर सिस्टम से चलेंगीं. ट्रेन का किराया उसी रूट पर चलने वाली शताब्दी एक्सप्रेस से ज़्यादा जबकि हवाई जहाज के किराये से आधा होगा. ट्रेन का किराया इतना ज़रूर रखा जाएगा कि 60-70 फ़ीसदी सीटें बुक होने के बाद ट्रेन BREAK EVEN POINT पर पहुंच सके यानी इसे चलाने पर आने वाला खर्च निकाला जा सके. महंगी और विशेष यात्रा सुविधा होने से इन ट्रेनों में किसी तरह की छूट या पास मान्‍य नहीं होंगे.

First Published: Sep 05, 2019 07:49:48 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो