BREAKING NEWS
  • हिंदू धर्म छोड़कर बौद्ध धर्म अपनाएंगी मायावती, बड़ी तादाद में समर्थक भी करेंगे धर्म परिवर्तन- Read More »
  • जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों ने ट्रक ड्राइवर की गोली मार की हत्या, सर्च अभियान जारी- Read More »
  • पाकिस्तान ने भारत को दहलाने की रची बड़ी साजिश, लश्कर समेत 3 बड़े आतंकी संगठन को सौंपा ये काम- Read More »

CBI ने पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव व DGP को पत्र लिखकर पूछा- कहां हैं राजीव कुमार...

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 15, 2019 11:21:21 PM
कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार (फाइल फोटो)

कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) कोलकाता के पूर्व पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार (Rajeev Kumar) पर लगातार शिकंजा कसती जा रही है. नोटिस जारी करने के बाद भी अभी तक राजीव कुमार सीबीआई के सामने पेश नहीं हुए हैं. सीबीआई अब उनके लोकेशन का पता लगाने की कोशिश कर रही है. इसे लेकर सीबीआई ने अब पश्चिम बंगाल के मुख्य सचिव, गृह सचिव और पुलिस महानिरीक्षक (डीजीपी) को पत्र लिखा है.

यह भी पढ़ेंःपाकिस्तान में हिन्दुओं पर जुल्म, भीड़ ने हिंदू शिक्षक को पीटा और मंदिर में की तोड़फोड़

सीबीआई ने पत्र में लिखा है कि राजीव कुमार से संपर्क नहीं हो रहा है. उनका पता नहीं लग पा रहा है. उन्होंने प्रदेश के उच्चाधिकारियों को लिखे पत्र में राजीव कुमार की लोकेशन पूछी है. सीबीआई ने राजीव कुमार द्वारा जांच अधिकारियों के सामने पेश होने के लिए और समय देने के अनुरोध को अस्वीकार करते हुए कहा है कि उन्हें शीघ्र जांच प्रक्रिया में शामिल होने का निर्देश दिया जाए. वहीं, यह भी संभावना जताई जा रही है कि सीबीआई के रुख को देखते हुए राजीव कुमार सोमवार को अदालत में सरेंडर कर सकते हैं.

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के 'चहेते' राजीव कुमार को सीबीआई ने शुक्रवार को समन भेजा था. राजीव कुमार को सीबीआई ने रविवार को पूछताछ के लिए पेश होने के लिए कहा था, लेकिन वह नहीं आए. इसके बाद राजीव कुमार ने सीबीआई को ईमेल कर एक महीने का समय मांगा था, जिसे सीबीआई ने अस्वीकार कर दिया था.

यह भी पढ़ेंःIAF की ताकत बढ़ी, इजराइल ने लेजर गाइडेड स्पाइस बमों की पहली खेप भेजी; जानें कैसे दुश्मनों को करेगा तबाह

बता दें कि शारदा चिटफंड केस में सीबीआई राजीव कुमार को पूछताछ के लिए लेना चाहती थी, लेकिन राज्य की सीएम ममता बनर्जी ने शुरुआती बातचीत से पहले ही राजीव का बचाव किया. इतना ही नहीं वो धरने पर भी बैठ गई. इसके बाद मामले ने तूल पकड़ी और मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया. बंगाल की सीएम ने धरना खत्म करते हुए सुप्रीम कोर्ट के आदेश से मामले की कार्रवाई चलने दी. हालांकि, राजीव के बचाव की हर कोशिश की जा रही है.

First Published: Sep 15, 2019 11:21:21 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो