Indian Air Force का कारनामा, दुर्घटनाग्रस्त हैलीकॉप्टर को Mi-17 से बांध 11500 फीट की ऊंचाई से नीचे उतारा

मधुरेंद्र कुमार  |   Updated On : October 27, 2019 12:38:38 PM
IAF ने 11500 फीट की ऊंचाई पर दुर्घटनाग्रस्त हैलीकॉप्टर को नीचे उतारा

IAF ने 11500 फीट की ऊंचाई पर दुर्घटनाग्रस्त हैलीकॉप्टर को नीचे उतारा (Photo Credit : News State )

देहरादून:  

भारतीय वायुसेना के एमआई-17 हैलीकॉप्टर के जरिए केदारनाथ हेलीपैड में यूटी एयर प्राइवेट लिमिटेड के दुर्घटनाग्रस्त विमान को नीचे उतारा गया है. यह निजी विमान कुछ दिन पहले केदारनाथ हेलीपैड पर पवित्र तीर्थस्थल से 11500 फीट की ऊंचाई पर दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. केदारनाथ तक केवल पैदल ट्रैक संपर्क के कारण मलबे को निचले क्षेत्र में पहुंचाना संभव नहीं था.

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड में जिला-क्षेत्र पंचायतों के करीब 50 सदस्य लापता, चुनाव आयोग बोला- ढूढो नहीं तो...

कंपनी ने उत्तराखंड नागरिक प्रशासन के माध्यम से भारतीय वायुसेना से अनुरोध किया कि वह इस महीने के अंत में केदारनाथ धाम के बंद होने से पहले इस विमान को नीचे उतारने में मदद करे. जिसके बाद 26 अक्टूबर की सुबह वायुसेना की ओर से दो मिग-17 की 5वीं यूनिट के हेलीकॉप्टर को कार्रवाई में लगाया गया. दुर्घटनाग्रस्त हेलीकॉप्टर को देहरादून के पास सहस्त्रधारा में उतारा गया है.

यह भी पढ़ेंः उद्योगपति मुकेश अंबानी पहुंचे केदारनाथ और बद्रीनाथ धाम, की विशेष पूजा-अर्चना

भारतीय वायुसेना के दल ने चतुराई से प्रदर्शन किया और कुशलता से संकीर्ण घाटी के माध्यम से वापस देहरादून के पास सहस्त्रधारा के लिए रवाना किया गया. नागरिक प्रशासन के समर्थन में भारतीय वायुसेना की जवाबदेही और भारतीय वायुसेना के कौशल के बारे में सुरक्षित निकासी गवाही है.

बता दें कि केदारनाथ क्षेत्र में हेलीकॉप्टर को एक संकरी घाटी से होकर गुजरना होता है. यहां पर हवा का दबाव बहुत ज्यादा होने के साथ अचानक मौसम भी खराब हो जाता है. ऐसे में हल्की सी चूक हेलीकॉप्टर दुर्घटना का बड़ा कारण बन जाती है.

First Published: Oct 27, 2019 12:29:40 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो