BREAKING NEWS
  • Aus Vs Pak: पांच बार की विश्‍व चैंपियन ऑस्ट्रे‍लिया का मुकाबला पाकिस्‍तान से थोड़ी देर में- Read More »
  • अलवर रेप और हत्‍या मामला : पॉक्‍सो कोर्ट ने आरोपी को सुनाई सजा-ए-मौत- Read More »
  • Bharat Box Office Collection Day 1: सलमान खान की 'भारत' ने बॉक्स ऑफिस पर ऐसे मचाया धमाल, पाए इतने करोड़- Read More »

आगरा में बस हादसे के बाद आज भी ग्रामीणों को सुनाई देती हैं चीख-पुकार, रात में नहीं आती नींद

News State Bureau  | Reported By : विनीत दुबे |   Updated On : July 14, 2019 06:18 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

आगरा में यमुना एक्सप्रेस-वे पर 8 जुलाई को हुए दर्दनाक हादसे के बाद देवदूत की भूमिका निभाने वाले ग्रामीणों को रात में नींद नहीं आती है. ग्रामीणों ने समय पर राहत बचाव कार्य शुरू करके झरना नाले में गिरी अवध डिपो की बस में फंसे 20 से ज्यादा घायल लोगों की जान बचाई थी. इस हादसे में 29 लोगों की मौत हुई थी. अब यमुना एक्सप्रेसवे पर तेज रफ्तार दौड़ रहे वाहनों की आवाज से ग्रामीणों की नींद खुल जाती है.

यह भी पढ़ें- मुस्लिम बच्चों को 'जय श्रीराम' के नारे लगाने के लिए मजबूर करने से योगी सरकार का इनकार

हादसे के बाद सबसे पहले मौके पर पहुंचे निहाल सिंह और उनके भाई प्रेमपाल रातों को सो नहीं पा रहे हैं. निहाल ने 14 घायलों को अकेले ही अपने दम पर बस से निकाला था. निहाल सिंह का कहना है कि जब से वह हादसा हुआ है तब से उन्हें रात में नींद नहीं आती. सोते समय लोगों की मदद की चीख-पुकार सुनाई देती है. ऐसे में उनकी नींद खुल जाती है. उसे लगता है कि कोई उसे मदद के लिए बुला रहा है.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश: तेज बारिश और आंधी तूफान में 15 लोगों की मौत, 133 इमारते धराशाई

निहाल के भाई प्रेमपाल सिंह का कहना है कि इस राहत कार्य में उन्होंने बड़ी भूमिका निभाई थी, लेकिन हादसे के बाद से उन्हें भी रात में नींद नहीं आती है. अब तेज रफ्तार वाहनों की आवाज से भी उनकी नींद खुल जाती है और ऐसा लगता है कि कहीं हादसा हो गया है. हमें दौड़ करके मदद करने के लिए जाना चाहिए.

यह भी पढ़ें- कंपनी की सामपन प्रक्रिया के दौरान उस पर सिविल वाद नहीं हो सकता दाखिल: HC

गौरतलब है कि हाल ही में आगरा में यमुना एक्सप्रेसवे पर दर्दनाक हादसा हुआ था. एक डबल डेकर रोजवेज बस एक्सप्रेसवे पर रेलिंग तोड़कर करीब 30 फीट गहरे नाले में गिर गई थी. इस हादसे में 29 लोगों की जान चली गई थी. जबकि 20 के करीब लोग घायल हुए थे. राहत और बचाव कार्य में ग्रामीणों ने अहम भूमिका निभाई थी. पुलिस के साथ मिलकर ग्रामीणों ने ही घायलों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया था. नाले में से मृतकों के शवों को भी निकलवाया था.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Saturday, July 13, 2019 02:07 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Agra, Agra Bus Accident, Uttar Pradesh,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

अन्य ख़बरें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो