23 बच्चों को बचाने वाली पुलिस टीम के मुरीद हुए CM योगी, कर दिया ये बड़ा ऐलान

News State Bureau  |   Updated On : January 31, 2020 12:50:19 PM
23 बच्चों को बचाने वाली पुलिस टीम के मुरीद हुए CM योगी, कर दिया ये बड़ा ऐलान

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Photo Credit : न्यूज स्टेट लाइब्रेरी )

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद में 23 बच्चों को बंधक बनाए जाने के मामले में पुलिस को मिली कामयाबी के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बड़ा ऐलान किया है. योगी आदित्यनाथ ने यूपी पुलिस द्वारा बच्चों को सकुशल रिहा कराए जाने से खुश होकर पूरी टीम को इनाम के तौर पर 10 लाख रुपये और प्रशस्ति पत्र देने की घोषणा की है. बच्चों को रिहा कराने वाले टीम को मिलने वाले सम्मान की जानकारी खुद यूपी पुलिस ने दी है. सीएम योगी ने इस पूरे मामले में ट्वीट कर पुलिस की सराहना की.

ये भी पढ़ें- IND vs NZ: न्यूजीलैंड को लगा बड़ा झटका, चौथे टी20 मैच से बाहर हुए कप्तान केन विलियमसन

योगी आदित्यनाथ ने यूपी पुलिस के जवानों की सराहना करते हुए ट्विटर पर लिखा, ''हमारी पुलिस ने जिस साहस और रणनीति से 23 बच्चों को सकुशल एक अपराधी की गिरफ्त से मुक्त कराया है वह सराहनीय है. प्रदेश की कानून व्यवस्था आपके मार्गदर्शन में जनमानस की सुरक्षा के लिए संकल्पित एवं सदैव सजग है.'' बता दें कि इससे पहले गृहमंत्री अमित शाह ने भी इस मामले में ट्वीट कर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और यूपी पुलिस को बधाई दी थी.

ये भी पढ़ें- 'विरोध के नाम पर हिंसा देश को कमजोर करती है', CAA विरोधियों को राष्‍ट्रपति का संदेश

क्या है पूरा मामला
सुभाष बाथम नाम के आरोपी ने पड़ोसियों से दुश्मनी के कारण 23 बच्चों को अपने घर में ही बंधक बना लिया था. सुभाष ने जन्मदिन के बहाने आसपास के बच्चों को अपने घर पर बुलाया और थोड़ी देर बाद सभी को एक साथ एक कमरे में बंद कर बंधक बना लिया था. जब पुलिस और प्रशासन के अधिकारी वहां पहुंचे तो सिरफिरे सुभाष ने पुलिस पर फायरिंग भी कर दी थी. उत्तर प्रदेश पुलिस लगातार उस घर पर नजरें गड़ाए बैठी रही. पुलिस बिना किसी जोखिम के उन्हें सुरक्षित निकालने के प्रयास कर रही थी.

ये भी पढ़ें- विनय को छोड़ अन्य तीन दोषियों को कल दी जा सकती है फांसी, सुनवाई के दौरान बोले तिहाड़ के वकील

इसके बाद इसके बाद यूपी पुलिस और एटीएस की टीम ने देर रात उसे मार गिराया और सभी बच्चों को उसके घर से सुरक्षित निकाल लिया गया. सभी 23 बच्चों को जब पुलिस ने सुरक्षित बाहर निकाला तब भी सभी बच्चे डरे सहमे थे. हर बच्चा अपने माता-पिता के पास जाना चाहता था. इस पूरे मामले पर खुद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी नजरें बनाए हुए थे. उन्होंने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की बैठक कर उन्हें घटनास्थल पर रहने का निर्देश दिया था.

First Published: Jan 31, 2020 12:50:19 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो