BREAKING NEWS
  • Indian Railway: दिवाली और छठ के लिए नहीं मिला कन्फर्म टिकट तो घबराएं नहीं, इन नई ट्रेनों में करा सकते हैं रिजर्वेशन- Read More »
  • अकाल तख्त (Akal Takht) प्रमुख बोले- बैन हो आरएसएस मोहन भागवत (RSS Chief Mohan Bhagwat) का बयान देशहित में नहीं- Read More »
  • बिहार : डेंगू के मरीजों को देखने गए केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे पर दो युवकों ने फेंकी स्याही, देखें VIDEO- Read More »

उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल से स्वतंत्र देव सिंह ने दिया इस्तीफा, सीएम योगी ने किया मंजूर

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : August 19, 2019 01:14:52 PM
स्वतंत्र देव सिंह (फाइल फोटो)

स्वतंत्र देव सिंह (फाइल फोटो) (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश मंत्रिमंडल में होने वाले विस्तार से पहले स्वतंत्र देव सिंह ने अपना इस्तीफा दे दिया है. उन्होंने बीजेपी के 'एक व्यक्ति-एक पद' सिद्धांत के चलते योगी कैबिनेट से इस्तीफा दिया है. देर रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उनका इस्तीफा मंजूर किया. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद स्वतंत्र देव सिंह का मंत्रिमंडल से हटना पहले से ही तय माना जा रहा था. अब मंत्रिमंडल में सीएम योगी समेत कुल 42 सदस्य हैं.

बता दें कि आज उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार के पहले मंत्रिमंडल विस्तार होना था. लेकिन इसे अचानक टाल दिया गया. सूत्रों का कहना है कि पूर्व केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली के गंभीर रूप से बीमार होने की वजह से मंत्रिमंडल का विस्तार रोका गया है. मंत्रिमंडल विस्तार को लेकर राजभवन में तैयारियां शुरू हो गई थीं. राजभवन में आधा दर्जन से अधिक मंत्रियों को पद तथा गोपनीयता की शपथ दिलाई जानी थी. बड़ी संख्या में विधायकों और मंत्रियों को राजधानी में रविवार रात तक पहुंचने के निर्देश भी दे दिए गए थे. हालांकि राजभवन में देर रात तक आधिकारिक रूप से कोई जानकारी नहीं दी गई थी.

यह भी पढ़ेंः UP में कानून का नहीं, बल्कि गुंडों और बदमाशों का 'जंगलराज', मायावती ने योगी सरकार पर बोला हमला

सोमवार को दोपहर के बाद उप्र की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल को दिल्ली जाना है. उनकी वापसी दो दिन बाद होगी. ऐसे में अब मंत्रिमंडल विस्तार होने की संभावना बुधवार के बाद ही है. मंत्रिमंडल विस्तार में शामिल किए जाने वाले संभावित नामों को लेकर खूब अटकलें चलती रहीं. सबसे अधिक परेशान उन मंत्रियों के समर्थकों को देखा गया, जिनके हटाए जाने की चर्चा चल रही है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह के दिल्ली दौरे के बाद से ही मंत्रिमंडल विस्तार की अटकलें तेज थीं. इसी बीच शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की राज्यपाल आनंदीबेन पटेल के साथ मुलाकात के बाद इस बात की पुष्टि हो गई.

सीटों के अनुपात के अनुसार, योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में मंत्रियों की संख्या 60 तक हो सकती है. योगी मंत्रिमंडल में 47 मंत्री थे, जिनमें से तीन, रीता बहुगुणा जोशी, डॉक्टर एस पी सिंह बघेल और सत्यदेव पचौरी सांसद निर्वाचित होने के बाद मंत्री पद से इस्तीफा दे चुके हैं. लोकसभा चुनाव 2019 में योगी कैबिनेट में मंत्री रहीं रीता बहुगुणा जोशी ने इलाहाबाद संसदीय सीट पर चुनाव जीता था. कानपुर से सत्यदेव पचौरी और आगरा से एसपी सिंह बघेल जीतकर संसद पहुंचे हैं. इन तीनों मंत्रियों ने लोकसभा चुनाव जीतने के बाद योगी मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था. सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर भी योगी मंत्रिमंडल से बाहर हो चुके हैं.

यह भी पढ़ेंः संगम नगरी प्रयागराज में 'जंगल राज', एक ही दिन में 6 लोगों की हत्या

ऐसे में पूर्वांचल से दो नाम शामिल किए जा सकते हैं. पश्चिम से भाजपा संगठन के बड़े नेता और एमएलसी अशोक कटारिया के नाम की चर्चा जोरों पर हैं. इसके साथ ही योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में नए चेहरे शामिल होंगे और कुछ मंत्रियों की छुट्टी होगी. साथ ही कई मंत्रियों के विभाग भी बदले जाएंगे.

यह वीडियो देखेंः 

First Published: Aug 19, 2019 01:14:52 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो