किरायरेदारों को परेशान करने वाले मकानमालिकों, महंगा सामान बेचने वाले दुकानदारों पर सख्ती के निर्देश

Bhasha  |   Updated On : March 27, 2020 10:42:50 AM
Noida

किरायरेदार को परेशान करने और महंगा सामान बेचने वालों पर होगी कार्रवाई (Photo Credit : फाइल फोटो )

नोएडा:  

उत्तर प्रदेश के नोएडा में कोरोना वायरस (Corona Virus) की रोकथाम के लिए लागू लॉकडाउन के बाद आम लोगों की परेशानियों का जायजा लेने गुरुवार रात कई इलाकों के दौरे पर निकले पुलिस आयुक्त और डीएम से लोगों ने मकान मालिकों द्वारा इस मुश्किल वक्त में घर खाली करने के लिए कहे जाने और कुछ जगहों पर दुकानदारों द्वारा महंगा सामान बेचे जाने की शिकायत की. दोनों अधिकारियों ने इस शिकायत पर कार्रवाई का भरोसा दिया. जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने बताया कि नोएडा (Noida) के सेक्टर-62 व सेक्टर-8 स्थित कॉलोनियों का दौरा कर पुलिस आयुक्त आलोक कुमार और डीएम बीएन सिंह ने लोगों को कोरोना वायरस के संबंध में हुए लॉकडाउन के बारे में जानकरी दी. इन कॉलोनियों में काफी संख्या में मजदूर रहते हैं. उन्होंने बताया कि दोनों अधिकारियों ने लोगों की मुश्किलें जानने का साथ ही आवश्यक सामान की आपूर्ति के बारे में पूछा.

यह भी पढ़ें: Lockdown: जानिए क्या है कर्फ्यू पास और कैसे कर सकते है इसे प्राप्त

जिला सूचना अधिकारी राकेश चौहान ने बताया कि डीएम ने सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन करने वालों को सचेत भी किया और साथ ही लोगों को आ रही परेशानियों का निराकरण करने का अधिकारियों को निर्देश दिया. सूचना अधिकारी ने बताया कि लोगों ने अपनी समस्या अधिकारियों के सामने रखीं और बताया गया कि किराये पर रहने वाले लोगों को मकान मालिकों द्वारा घर खाली करने के लिए कहा जा रहा है और कुछ दुकानदार सामान को बेहद महंगा बेचा रहे हैं. इस पर पुलिस आयुक्त ने संबंधित थाना प्रभारी व चौकी प्रभारी को निर्देश दिया कि इस प्रकार के मकान मालिकों को हिदायत दी जाए कि लॉकडाउन की स्थिति में इस तरह किरायेदारों को घर से नहीं निकाला जाए और टीम गठित कर महंगा सामान बेचने वाले दुकानदारों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाए.

उन्होंने बताया कि डीएम ने सेक्टर-8 स्थित मस्जिद के इमाम को बुलवाकर बताया कि जुमे की नमाज के लिए मस्जिद में एकत्रित नहीं हों बल्कि अपने-अपने घरों से ही नमाज अदा करें. दोनों अधिकारियों ने लोगों को बताया कि किस प्रकार पुलिस के हेल्पलाइन नंबरों व डायल 112 पर कॉल कर मदद ली जा सकती है. उन्होंने बताया कि एक्सप्रेस-वे, डीएनडी और अन्य स्थानों पर पैदल जा रहे कुछ लोगों से भी अधिकारियों ने बात की.

यह भी पढ़ें: लोगों के लिए देवदूत साबित हो रहे कोरोना वारियर्स, जानें कैसे

इस दौरान लोगों ने बताया कि काम नहीं होने के कारण वे अपने घरों की ओर पैदल ही जा रहे हैं. इनमें उत्तर प्रदेश, हरियाणा, दिल्ली और राजस्थान के निवासी थे. सभी लोगों की परिस्थिति देखते हुए आयुक्त और डीएम ने लोगों को उनके घर पहुंचाने के लिए रोडवेज बसों की निशुल्क व्यवस्था की. ये बसें ग्रेटर नोएडा के परी चौक पर एकत्रित की गईं, जिससे सभी लोग अपने स्थानों पर सुरक्षित पहुंच सकें. प्रशासन ने पैदल जा रहे लोगों के लिए खाने की व्यवस्था भी की.

यह वीडियो देखें: 

First Published: Mar 27, 2020 10:42:50 AM

न्यूज़ फीचर

वीडियो