BREAKING NEWS
  • Fact Check: ट्रैफिक रूल्‍स तोड़ने पर Video में दिखा उत्‍तर प्रदेश पुलिस का खौफनाक चेहरा, जानें क्‍या है सच्‍चाई - Read More »
  • महाराष्ट्र विधानसभा: NCP-कांग्रेस का बराबर सीटों पर बंटवारा, अन्य दलों के लिए छोड़ी इतनी सीटें- Read More »

शामली में उठा पलायन का मुद्दा, 'यह घर बिकाऊ है' के लगे बोर्ड, पुलिस ने बताया स्टंटबाजी

News State Bureau  |   Updated On : June 29, 2019 04:34:53 PM
प्रतीकात्मक फोटो।

प्रतीकात्मक फोटो।

ख़ास बातें

  •  कई घरों पर लिखे हैं यह घर बिकाऊ है
  •  रिपोर्ट के मुताबिक करीब 150 लोग छोड़ चुके हैं घर
  •  शामली के एसपी ने कहा सब स्टंटबाजी है

शामली:  

उत्तर प्रदेश के शामली में पलायन एक बार फिर से मुद्दा बना है. इसे लेकर पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है. पुलिस की कार्रवाई से नाराज होकर लोगों ने पलायन करने की चेतावनी दे डाली है. कई घरों पर 'मकान बिकाऊ है' लिखा मिल जाएगा. मोहल्ला ठठेरान लाहोरी गेट के आधा दर्जन से अधिक मकानों को उनके मालिक बेचना चाहते हैं.

यह भी पढ़ें- 2 करोड़ की लूट की योजना बना रहे थे लुटेरे और कान लगा कर सुन रही थी पुलिस, जानिए फिर क्या हुआ

सैकड़ों मकानों पर इसी तरह लिखा हुआ है. सैकड़ों मकान मालिक पलायन करके चले गए हैं. मकान मालिकों का आरोप है कि पुलिस निर्दोष लोगों को झूठे केस में फंसा रही है. शामली के अजुध्या चौक पर मोमोज खाने को लेकर दो युवकों में विवाद हो गया था. जिसमें तौफीक ने अपने तीन साथियों के साथ बजरंगदल के कार्यकर्ता हर्ष व एक अन्य के साथ मारपीट की.

यह भी पढ़ें- खादी को प्रमोट करेगी योगी सरकार, खोलने जा रही है नए स्टोर, ऑनलाइन भी मिलेंगे सामान

इसे लेकर अजुध्या चौक पर हंगामा हो गया. जानकारी के बाद पहुंचे हिंदू संगठन के कार्यकर्ताओं ने एक युवक को पकड़कर जमकर पीटा. मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को हिरासत में ले लिया लेकिन फिर भी आरोप है कि कुछ कार्यकर्ताओं ने पुलिस के सामने भी मारपीट की. पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों समेत 7 लोगों को गिरफ्तार किया.

यह भी पढ़ें- क्‍या अपराधियों के आगे योगी सरकार ने समर्पण कर दिया है? UP में बढ़ते अपराध पर प्रियंका गांधी ने पूछा

जबकि अन्य लोगों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है. न्यूज 18 की रिपोर्ट के मुताबिक शामली के एसपी ने इस मामले में कहा है कि मुकदमा हटवाने के लिए यह सब किया जा रहा है. पलायन एक स्टंटबाजी है. लेकिन पुलिस इस तरह के दबाव में आकर काम नहीं करती है. पुलिस के मुताबिक इस मामले में आरोपियों को जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

First Published: Jun 29, 2019 03:32:01 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो