BREAKING NEWS
  • सीएम नीतीश कुमार से मिले बिल गेट्स, बोले- बिहार ने गरीबी और बीमारी से बहुत लड़ाई लड़ीसीएम नीतीश कुमार से मिले बिल गेट्स, बोले- बिहार ने गरीबी और बीमारी से बहुत लड़ाई लड़ी- Read More »
  • Today History: आज ही के दिन बाघ को राष्ट्रीय पशु चुना गया था, जानें आज का इतिहास- Read More »
  • उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड की ताज़ा खबरें, 18 नवंबर 2019 की बड़ी ब्रेकिंग न्यूज- Read More »

सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिवारों से प्रियंका गांधी ने मुलाकात की

IANS  |   Updated On : July 20, 2019 02:19:58 PM
सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिवारों से प्रियंका गांधी ने मुलाकात की

सोनभद्र नरसंहार के पीड़ित परिवारों से प्रियंका गांधी ने मुलाकात की (Photo Credit : )

लखनऊ:  

उत्तर प्रदेश के सोनभद्र में हुए गोलीकांड में मारे गए दस लोगों के परिवार के सदस्यों से मिलने की जिद पर अड़ीं कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा से पीड़ित परिवार के सदस्यों ने चुनार किला के गेस्ट हाउस में आकर मुलाकात की. चुनार किला के गेस्ट हाउस के बाहर प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ कांग्रेस के नेताओं के धरना के बीच में ही गेस्ट हाउस में पीड़ित परिवार को लाया गया. इनमें चार महिलाओं के साथ एक पुरुष भी हैं. इन सभी ने प्रियंका गांधी से भेंट की है. प्रियंका ने इनसे सोनभद्र कांड के बारे में जानकारी ली. चुनार गेस्ट हाउस के बगीचे में पीड़ित परिवार की महिलाओं ने प्रियंका गांधी को देखते ही रोना शुरू कर दिया. इस दौरान प्रियंका भावुक हो गईं. उन्होंने महिलाओं से बातचीत की और उन्हें पानी पीने के लिए कहा.

यह भी पढ़ें : आनंदीबेन पटेल होंगी उत्‍तर प्रदेश की राज्‍यपाल, बिहार से मध्‍य प्रदेश भेजे गए लालजी टंडन

इससे पहले प्रियंका गांधी ने एक वीडियो साझा करते हुए ट्वीट करके योगी सरकार पर निशाना साधा. प्रियंका ने कहा, "क्या इन आसुओं को पोंछना अपराध है?" उन्होंने कहा, "राहुल गांधी ने मुझे पीड़ित परिवारों से मिलने को कहा था. वो मेरे नेता हैं और उनके निर्देश पर मैं यहां आई हूं."

यह भी पढ़ें : प्रियंका का कसूर इतना ही कि वह पीड़ितों के आंसू पोंछना चाहती थीं: कांग्रेस

प्रियंका गांधी ने प्रदेश की कानून व्यवस्था पर सवाल उठाते हुए कहा, "योगी सरकार संवेदनहीन है. मैं पीड़ितों के आंसू पोछने आयी हूं। इसे अनावश्यक रूप से राजनीतिक रंग दिया जा रहा है." सोनभद्र कांड में मारे गए लोगों से मिलने के लिए प्रियंका शुक्रवार को आ रही थीं, लेकिन जिला प्रशासन ने उन्हें रास्ते में रोककर हिरासत में ले लिया था और वे चुनार गेस्ट हाउस में रुकी थीं.

First Published: Jul 20, 2019 02:19:21 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो