महापुरुषों की जयंती वर्ष के बराबर उत्तर प्रदेश की जेलों से रिहा होंगे कैदी

IANS  |   Updated On : August 16, 2019 10:29:32 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश की जेल में कैद 463 बंदियों को समय से पहले रिहा किया जाएगा. महापुरुषों की जयंती के वर्ष के बराबर ही बंदियों की रिहाई करने के निर्देश दिए गए हैं. मुख्यमंत्री योगी ने इस संबध में 5 अगस्त को जेल विभाग की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देश दे चुके हैं. उस दौरान उन्होंने कहा था कि महापुरुषों की जयंती वर्ष या महत्वपूर्ण तिथि के बराबर ही बंदियों की रिहाई की जानी चाहिए. इसके बाद यह कवायद शुरू हो गई है. इसी कारण 73वें स्वतंत्रता दिवस पर प्रदेश की जेलों में बंद 73 दोषसिद्ध कैदियों को रिहा किया गया है.

यह भी पढ़ें- UP के बुलंदशहर में थाने के सभी सिपाही और पुलिसकर्मी किए गए लाइन हाजिर, ये है वजह

ये ऐसे कैदी हैं जो न्यायालय द्वारा दी गई सजा पूरी कर चुके हैं और जुर्माना न जमा कर पाने के कारण रिहा नहीं हो पा रहे थे. इस संबंध में अपर मुख्य सचिव (गृह एवं कारागार) अवनीश कुमार अवस्थी ने पुलिस महानिदेशक, महानिरीक्षक, कारागार प्रशासन एवं सुधार सेवाओं को आवश्यक निर्देश दिए हैं.

यह भी पढ़ें- रक्षाबंधन के मौके पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सीएम योगी को बांधी राखी, देखें Photo's

इसी तरह पांच सितंबर को शिक्षक दिवस के मौके पर सर्वपल्ली राधाकृष्ण की 138वीं जयंती है. इस मौके पर 138 बंदियों को रिहा किया जाएगा. 25 सितंबर को पंडित दीनदयाल उपाध्याय की 102वीं जयंती है. इस मौके पर कारागार विभाग 102 बंदियों को रिहा कराएगा. वहीं दो अक्टूबर को महात्मा गांधी की 150वीं जयंती पर 150 बंदी रिहा किए जाएंगे. मुख्यमंत्री के निर्देश पर जेल विभाग 70 वर्ष से अधिक, अशक्त व बीमार बंदियों की सूची भी तैयार कर रहा है. जल्द ही इनकी रिहाई का भी प्रस्ताव तैयार करवाया जाएगा.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Aug 16, 2019 10:28:46 AM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो