BREAKING NEWS
  • बिहारः छोटे कपड़ों में अश्लील डांस! प्रशासन ने रोका कार्यक्रम तो मचा बवाल- Read More »
  • सावधान : हिटमैन रोहित शर्मा के निशाने पर आए आस्‍ट्रेलियाई स्‍टीव स्‍मिथ के रिकार्ड- Read More »
  • उत्‍तराखंड-अरुणाचल में राष्‍ट्रपति शासन को लेकर मोदी सरकार की हो चुकी है फजीहत- Read More »

UP: कथित तौर पर प्रिंसिपल ने दलित बच्चों को स्कूल से निकाला, कहा- तुम्हारी औकात नहीं...

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : September 23, 2019 02:42:47 PM
सिद्धार्थनगर स्कूल (फोटो- News State)

सिद्धार्थनगर स्कूल (फोटो- News State) (Photo Credit : )

सिद्धार्थनगर :  

उत्तर प्रदेश के सिद्धार्थनगर जिले में एक दलित व्यक्ति ने एक विद्यालय के प्रिंसिपल पर उसके चार बच्चों को स्कूल से निकालने का आरोप लगाया है. दलित व्यक्ति का कहना है कि प्रिंसिपल ने उसके बच्चों को यह कहकर स्कूल से बाहर निकाल दिया कि तुम लोग दलित हो, तुम्हारी औकात नहीं कि हमारे विद्यालय में पढ़ सको. स्कूल के प्रिंसिपल ने भी बच्चों को निकालने की बात स्वीकारते हुए मामला फीस का बताया है.

यह भी पढ़ेंः हमीरपुर में आधा दर्जन से ज्यादा गांवों के लोगों ने किया उपचुनाव का बहिष्कार

मामला सिद्धार्थनगर जिले के शोहरतगढ़ कस्बा इलाके का है. यहां के रहने वाले शिव कुमार के चार बच्चे घर के बगल में सरस्वती शिशु मंदिर में पढ़ते थे. शिवकुमार का आरोप है कि 30 अगस्त को उसके बच्चों को स्कूल के प्रिंसिपल ने क्लास ही नहीं, बल्कि स्कूल से ही बाहर निकाल दिया.जब वह स्कूल में वजह पूछने गया तो फीस जमा न होने की बात कही गई.

शिवकुमार की मानें तो उसने जुलाई 2019 तक की फीस जमा कर दी है. यह बात उसने प्रिंसिपल को बताई तो प्रिंसिपल ने उन्हें जातिसूचक गालियां देते हुए यह कहकर भगा दिया कि तुम्हारी औकात नहीं कि तुम यहां अपने बच्चों को पढ़ा सको और बच्चों को स्कूल से निकाल दिया. शिव कुमार का कहना है कि तभी से बच्चे घर पर ही हैं और उनकी पढ़ाई छूट गई है. वह न्याय के लिए भटक रहा है, लेकिन उसकी सुनवाई नहीं हो रही है.

यह भी पढ़ेंः जेल में बंद दुष्कर्म के आरोपी स्वामी चिन्मयानंद की तबीयत बिगड़ी, लखनऊ रेफर

इस मामले में स्कूल के प्रिंसिपल बच्चों का नाम काटकर निकालने की बात तो मानते हैं, लेकिन उनका कहना है कि ऐसा निर्णय लेने की वजह बच्चों का दलित होना नहीं बल्कि फीस ना जमा करना और अभिभावक की स्टाफ के साथ दुर्व्यवहार करना है. वहीं इस मामले में जिलाधिकारी दीपक मीणा ने कहा कि मामला उनके संज्ञान में है. इसकी जांच कराकर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी.

First Published: Sep 23, 2019 02:42:47 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो