सपा सांसद आजम खान और पत्नी -बेटे के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी, जानें क्या है मामला

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 02, 2019 07:15:31 PM
आजम खान

आजम खान (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

लखनऊ:  

आजम खान पर फिर से कानून की तलवार लटक गई है. अदालत ने पत्नी-बेटे समेत आजम खान के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया है. सपा सांसद आजम खान, उनकी पत्नी विधायक तंजीन फात्मा और उनके विधायक बेटे अब्दुल्लाह आजम के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी की गई है. एडीजी के 6 अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी किया है. मामला विधायक अब्दुल्लाह के जन्म प्रमाण पत्र से जुड़ा है. इसके अलावा दो अन्य मामलों में भी आजम खान के खिलाफ जमानती वारंट जारी किया है. इन मामलों में चर्चित मामला पूर्व सांसद फिल्म अभिनेत्री जयाप्रदा पर अश्लील टिप्पणी का है.

यह भी पढ़ें- विधानसभा में पास हुआ दिल्ली स्पोर्ट्स यूनिवर्सिटी बिल, देश के खिलाड़ियों का सपना होगा पूरा

विधायक अब्दुल्लाह आजम के दो जन्म प्रमाण पत्र के मामले में आजम खान, तंजीन फात्मा व खुद अब्दुल्लाह की सोमवार को एडीजे 6 रामपुर कोर्ट में पेशी थी, लेकिन तीनों नेता उपस्थित नहीं हुए. इसके बाद अदालत ने गैर जमानती वारंट जारी कर दिए. इस मामले में अदालत ने पूर्व में भी आजम व उनकी पत्नी-बेटे के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था. अब अदालत ने पेशी के लिए 18 दिसंबर की तारीख तय की है.

यह भी पढ़ें- VIDEO: झारखंड में अमित शाह ने राहुल गांधी पर किया प्रहार, बोले- 2024 के पहले देश से एक-एक घुसपैठियों को चुन-चुन कर निकालेंगे

भाजपा नेता आकाश सक्सेना ने आरोप लगाया था कि सांसद आजम खान का विधायक बेटा अब्दुल्ला आजम गलत जन्म प्रमाणपत्र बनवाकर उसके आधार पर चुनाव लड़ा था. उनकी शिकायत पर पुलिस ने धारा 420, 467, 468, 471 के तहत मुकदमा दर्ज कराया था. सांसद आज़म खान, उनकी पत्नी विधायक तजीन फातमा भी अपने बेटे विधायक अब्दुल्ला आजम के दो-दो जन्म प्रमाणपत्र होने के मामले में आरोपी हैं.

यह भी पढ़ें- निकाह-हलाला पर सर्दी की छुट्टियों बाद सुनवाई करेगी सुप्रीम कोर्ट, जल्द सुनवाई से इंकार

वहीं इससे पहले समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आजम खान का बचाव करते हुए कहा था कि बदले की भावना से उन्हें तंग किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि आजम खान को इसलिए परेशान किया जा रहा है, ताकि हमारे नेता कमजोर हों, पार्टी कमजोर हो और हमारी सरकार न बन सके. अखिलेश ने कहा कि आजम खान पर बहुत जुल्म किया जा रहा है. इन्होंने ईमानदारी से सेवा की, इसलिए इन्हें दुख दिया जा रहा. वे लोग ऐसा इसीलिए कर रहे हैं, ताकि हमारे नेता और पार्टी कमजोर हो जिससे हमारी सरकार न बन सके. लेकिन रामपुर की जनता डरने वाली नहीं है. उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी का ध्यान सिर्फ रामपुर के चुनाव पर है. प्रदेश की जनता के साथ क्या हो रहा है, इससे उनको कोई मतलब नहीं है.

First Published: Dec 02, 2019 06:49:26 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो