उत्तर प्रदेश के लोगों को घबराने की जरूरत नहीं, पेट्रोल, डीजल और घरेलू सिलेंडरों का पर्याप्त स्टॉक

Bhasha  |   Updated On : March 26, 2020 03:52:09 PM
योगी आदित्यनाथ

आदित्यनाथ (Photo Credit : फाइल फोटो )

लखनऊ:  

उत्तर प्रदेश में पेट्रोल, डीजल और एलपीजी सिलिंडर का पर्याप्त स्टाक है और तेल कंपनिया इस स्टाक को बनाये रखने के लिये काम कर रही है. आधिकारिक रूप से कहा गया है कि प्रदेश में एलपीजी की आपूर्ति सामान्य रूप से हो रही है और पेट्रोलियम उत्पाद भी सामान्य रूप से उपलब्ध हैं इंडियन आयल के कार्यकारी निदेशक, उत्तर प्रदेश बाजार में कंपनी के कारोबार के प्रभारी और राज्य स्तरीय समन्वयक उत्तीय भट्टाचार्य ने बुधवार को एक बयान में बताया कि प्रदेश में पेट्रोल, डीजल और एलपीजी सिलेंडरों का पर्याप्त स्टॉक उपलब्ध है.

यह भी पढ़ें- अखिलेश यादव बोले- CM योगी 'समाजवादी राहत पैकेट' को बांटने का निर्देश दें, चाहे नाम बदल दें

एलपीजी सिलेंडर की निरंतर और सुचारू आपूर्ति बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत

सभी पीएसयू तेल कम्पनियाँ इस कठिन समय के दौरान अपने रिटेल आउटलेट और एलपीजी डिस्ट्रीब्यूटर्स के माध्यम से ईंधन और एलपीजी सिलेंडर की निरंतर और सुचारू आपूर्ति बनाए रखने के लिए कड़ी मेहनत कर रही हैं. एलपीजी वितरकों के माध्यम से एलपीजी सिलेंडरों और रिटेल आउटलेट (पेट्रोल-पम्पों) के माध्यम से पेट्रोल और डीजल के पर्याप्त स्टॉक की डिलीवरी सुनिश्चित की जा रही है. तेल कम्पनियों ने इन आवश्यक वस्तुओं की नियमित उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए उत्तर प्रदेश राज्य के सम्बन्धित जिलाधिकारी से आवश्यक पास जारी करने के लिए भी अनुरोध किया है.

यह भी पढ़ें- Lockdown : नारकोटिक्स कर्मचारी का भाई दारोगा बन काट रहा था चालान, फिर जाने क्या हुआ

कुल 2178 एलपीजी वितरक हैं

भट्टाचार्य ने कहा कि वर्तमान में, उत्तर प्रदेश में लगभग 403 लाख सक्रिय एलपीजी ग्राहकों को एलपीजी की आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए कुल 2178 एलपीजी वितरक हैं और इसी प्रकार पेट्रोल-डीजल इत्यादि की जन-सामान्य में आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए 7128 रिटेल आउटलेट (पेट्रोल-पम्प) हैं . बयान में कहा गया कि पीएसयू तेल कम्पनियाँ उत्तर प्रदेश राज्य में पेट्रोल और डीजल उपलब्ध कराने के लिए 32 टर्मिनल और डिपो का संचालन करती हैं. उत्तर प्रदेश में 26 एलपीजी बॉटलिंग प्लांट हैं, जो राज्य के उपभोक्ताओं की मांग के आधार पर एलपीजी की उपलब्धता सुनिश्चित करते हैं. तेल कम्पनियाँ लगभग 27000 डिलीवरी बॉय के साथ उत्तर प्रदेश के कोने-कोने पर प्रति दिन औसतन 7.9 लाख सिलेंडर की आपूर्ति करती हैं. भट्टाचार्य ने लोगों से अपील की है कि वे डिलीवरी बॉयज और कस्टमर अटेंडेंट के साथ सहयोग करें. भाषा जफर अर्पणा मनोहर मनोहर

First Published: Mar 26, 2020 03:49:20 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो