BREAKING NEWS
  • महाराष्ट्र में सियासी घमासान: शिवसेना को राज्यपाल ने दिया झटका, और समय देने से किया इनकार- Read More »

कमलेश तिवारी हत्याकांड में आतंकी कनेक्शन पर डीजीपी का बड़ा बयान, बोले- किसी भी संभावना से इंकार नहीं

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 21, 2019 10:16:04 AM
कमलेश तिवारी

कमलेश तिवारी (Photo Credit : फाइल फोटो )

लखनऊ:  

कमलेश तिवारी हत्याकांड में आतंकी कनेक्शन पर उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ओपी सिंह ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि इस केस में हम किसी भी संभावना से इंकार नहीं कर रहे हैं. डीजीपी ने कहा कि जांच के सभी विकल्प खुले हुए हैं. महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक के डीजीपी और एटीएस से लगातार हम संपर्क में हैं. उन्होंने कहा कि आतंकियों के सेल्फ मोटिवेटेड और स्लीपिंग मॉड्यूल भी होते हैं. पुलिस महानिदेशक ओपी सिंह ने दावा किया कि हम जांच को लॉजिकल एंड तक जल्द ही पहुंचा देंगे. साथ ही उन्होंने बताया कि इस वारदात में यूपी का कनेक्शन भी है.

यह भी पढ़ेंः सांप्रदायिक पोस्ट पर यूपी पुलिस सख्त, 24 घंटे में 14 लोगों के खिलाफ केस दर्ज

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि गिरफ्तार आरोपियों को आज लखनऊ लाया जा रहा है. यहां आरोपियों को रिमांड पर लेकर सघन पूछताछ होगी. बता दें कि लखनऊ पुलिस को तीनों आरोपियों की ट्रांजिट रिमांड मिल गई है. अहमदाबाद की कोर्ट ने तीनों आरोपियों की 24 घंटे की ट्रांजिट रिमांड को मंजूरी दे दी है. अब तीनों आरोपियों को पूछताछ के लिए गुजरात से लखनऊ लाया जाएगा.

यह भी पढ़ेंः कमलेश तिवारी हत्याकांड में हुआ एक और खुलासा, अब सामने आया कानपुर कनेक्शन

गौरतलब है कि इस हत्याकांड के मुख्य आरोपी राशिद पठान का पाकिस्तानी कनेक्शन भी सामने आ चुका है. सूत्रों ने बताया था कि राशिद पठान ने दुबई में जिस कंपनी में काम किया था, उसका मालिक पाकिस्तानी है. इस खुलासे के बाद से एटीएस आरोपी राशिद पठान के पाकिस्तानी कनेक्शन की जांच में जुटी है. इसके अलावा इस हत्याकांड में आतंकवादी संगठन आईएसआईएस का हाथ होने की आशंका पहले से ही जताई जा रही है. अल हिन्द नाम के एक अनाम संगठन ने भी कमलेश तिवारी की हत्या में कथित तौर पर अपना हाथ क्लेम किया था.

First Published: Oct 21, 2019 09:50:16 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो