BREAKING NEWS
  • RBI गवर्नर का बड़ा बयान, कहा-वैश्विक विकास धीमा, लेकिन दुनिया में नहीं है कोई मंदी- Read More »

गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी हत्याकांड में बागपत जेल के जेलर उदय प्रताप सिंह बर्खास्त

Dalchand  | Reported By : हरेंद्र चौधरी |   Updated On : June 21, 2019 04:25:41 PM
फाइल फोटो

फाइल फोटो

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश के गृह विभाग ने गैंगस्टर मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले में बड़ी कार्रवाई की है. गृह विभाग ने इस मामले में जांच में दोषी पाए जाने पर जेलर उदय प्रताप सिंह को बर्खास्त कर दिया है. उत्तर प्रदेश गृह विभाग के प्रमुख सचिव अरविंद कुमार ने जेलर उदय प्रताप सिंह को बर्खास्त करने का आदेश दिए हैं.

यह भी पढ़ें- दरवेश यादव की हत्या का मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, 25 जून को होगी सुनवाई

2018 में हुई थी मुन्ना बजरंगी की हत्या

बता दें कि 9 जुलाई 2018 को बागपत जेल में डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या हुई थी. कुख्यात अपराधी सुनील राठी ने मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या की थी. इस घटना के बाद जेल प्रशासन से लेकर सरकार तक में हड़कंप मच गया था. उस वक्त उदय प्रताप सिंह बागपत जेल के जेलर थे. इस मामले में सीएम योगी ने जेलर उदय प्रताप सिंह को तुरंत ही सस्पेंड कर न्यायिक जांच के आदेश दिए थे. इस घटना के बाद उन्हें सस्पेंड कर दिया गया था. अब  जांच में दोषी पाए जाने के बाद उन्हें बर्खास्त कर दिया गया है.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश में थानों के नहीं लगाने होंगे चक्कर, अब घर बैठे दर्ज होगी FIR

मुन्ना बजरंगी के बारे में

मुन्ना बजरंगी का जन्म 1967 में उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले के पूरेदयाल गांव में हुआ था. उसका असली नाम प्रेम प्रकाश सिंह है. मुन्ना ने 5वीं कक्षा के बाद पढ़ाई छोड़ दी थी. छोटी सी उम्र में ही मुन्ना ने जुर्म की दुनिया में कदम रख दिया था. उस पर 40 हत्याओं, लूट और रंगदारी की घटनाओं में शामिल होने का केस दर्ज थे.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Jun 21, 2019 04:05:31 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो