BREAKING NEWS
  • राजस्थान सरकार ने निकाय चुनाव से पहले की बड़ी घोषणा, पढ़ें पूरी Detail- Read More »
  • आरटीआई (RTI) ने खोली रेलवे (Railway) की पोल, जानें कितनी एक्‍सप्रेस (express) और पैसेंजर ट्रेनें (Passenger Trains) रहीं लेट- Read More »
  • इस राज्य में अब नहीं मिलेगा गुटखा और पान मसाला! सरकार ने लगाया प्रतिबंध- Read More »

बाराबंकी: हॉस्टल से भागी 6 छात्राएं, वार्डेन पर लगाए गंभीर आरोप

News State Bureau  |   Updated On : July 22, 2019 06:10:18 PM
छात्राओं से पूछताछ करते अधिकारी।

छात्राओं से पूछताछ करते अधिकारी। (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  छात्राएं भाग कर एक छात्रा के घर पर रुकी हुई थीं
  •  वार्डेन पर लगाया टॉयलेट और कपड़े साफ करवाने का आरोप
  •  बीएसए के मुताबिक छात्राओं का मन नहीं लग रहा इस लिए भागीं

बाराबंकी:  

बाराबंकी जिले में सोमवार को कस्तूरबा गांधी बालिका आवासीय विद्यालय से छह छात्राओं के भागने की खबर से हड़कंप मच गया. आनन-फानन में जिला प्रशासन हरकत में आया और इन सभी छात्राओं को वापस विद्यालय लाया गया.

यह सभी भागने के बाद एक छात्रा के घर पर ही रुकी थीं. वहीं पकड़े जाने पर इन छात्राओं ने वार्डन पर कई गंभीर आरोप लगाए, जिसके चलते वह लोग यहां से भागी थीं. जबकि प्रशासन छात्राओं के आरोपों से इनकार कर रहा है.

यह भी पढ़ें- UP विधानसभा में अब मेट्रो की तरह गेट लगेंगे, कार्ड से होगी एंट्री, ये है प्रक्रिया

यह मामला जहांगीरबाद थाना क्षेत्र के मिश्रीपुर का है. जहां के कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय की छात्राएं अचानक गायब हो गईं. छात्राओं के गायब होने की खबर से जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया. डीएम ने बीएसए को मौके पर जाकर छात्राओं की जानकारी लेने का निर्देश दिया.

बीएसए ने मौके पर पहुंचकर जानकारी ली. जानकारी पर पता चला कि उन भागी हुई छात्राओं में से एक का घर जेवली गांव में है, जहां वर बाकी सभी छात्राएं भी रुकी हुई हैं. जहां से सभी छात्राओं को वापस विद्यालय लाया गया.

यह भी पढ़ें- UP में डकैती में 44, लूट में 30 और हत्या में 10 प्रतिशत की कमी, जानिए पूरा ग्राफ

विद्यालय से भागी छात्राओं ने बताया कि उन लोगों से यहां की वार्डन शालिनी टायलेट में सफाई के साथ कपड़े, बर्तन धुलवाती हैं और साफ-सफाई का काम कराया जाता है. उनका कहना है कि विद्यालय में पानी भी काफी गंदा आता है.

जिसके चलते वह लोग यहां से भागी थीं. जबकि विद्यालय की वार्डन ने छात्राओं के आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है. इन लोगों से यहां कोई काम नहीं कराया जाता. वहीं मामले में बाराबंकी के बीएसए वीपी सिंह ने बताया कि उनको जानकारी मिली थी की विद्यालय की छह छात्राएं भाग गई हैं.

यह भी पढ़ें- सावन में आप भी चढ़ाना चाहते हैं भोलेनाथ को जल, तो ऐसे पहुंचें बाबा धाम

स्कूल जाकर सीसीटीवी फुटेज चेक किया गया. जानकारी करने पर पता चला कि भागी हुई छात्राओं में से एक लड़की मानसी पास में ही जेवली गांव की रहने वाली है. उसी के घर पर बाकी सभी छात्राएं रुकी हुई हैं. वहां जाकर मानसी के पिता बनवारी लाल से बात करके सभी छात्राओं को वापस विद्यालय लाया गया है.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश में रियल एस्टेट : ऊंची इमारतें, और ऊंचे अपराधी

बीएसए ने बताया कि सभी छात्राओं का अभी एडमिशन हुआ है, इसलिये इन लोगों का अभी यहां मन नहीं लग रहा. धीरे-धीरे सब बच्चे ठीक हो जाएंगे. वहीं छात्राओं के आरोपों को बीएसए ने सिरे से खारिज कर दिया और कहा कि जांच में ऐसी कोई बात सामने नहीं आई है.

First Published: Jul 22, 2019 06:10:18 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो