'मुझे पैसे-मकान नहीं चाहिए, बस बेटी के हत्‍यारों को मारकर उसे इंसाफ दे दें, बोले उन्‍नाव रेप पीड़िता (Unnao Rape Victim) के पिता

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : December 07, 2019 12:12:25 PM
मुझे पैसे-मकान नहीं चाहिए, बस बेटी को इंसाफ दिला दें: पीड़िता के पिता

मुझे पैसे-मकान नहीं चाहिए, बस बेटी को इंसाफ दिला दें: पीड़िता के पिता (Photo Credit : ANI Twitter )

नई दिल्‍ली :  

उन्नाव दुष्कर्म पीड़िता (Unnao Rape Victim) की मौत से दुखी पिता ने सरकार से मांग की है कि वे बेटी को इंसाफ दिलाएं. उन्‍होंने हैदराबाद एनकाउंटर (Hyderabad Encounter) की तरह दरिदों को सजा मिलने की मांग की है. पीड़िता के पिता ने कहा, मुझे किसी धन की लालच नहीं है. मेरी सिर्फ एक ही मांग है कि मेरी बेटी को मौत के बाद इंसाफ मिले. उन्होंने आरोपियों का एनकाउंटर करने या फांसी की सजा देने की मांग की. पीड़िता के पिता ने बताया कि आज सफदरजंग अस्पताल (Safdarjung Hospital) में बेटी का पोस्टमार्टम होगा. उसके बाद परिजन उसका शव लेकर उन्नाव लाएंगे.

यह भी पढ़ें : उन्नाव कांडः विधानसभा के बाहर धरने पर बैठे पूर्व CM अखिलेश यादव, कहा घटना के लिए DGP दोषी

शुक्रवार रात 11:40 बजे पीड़िता का सफदरजंग अस्पताल में निधन हो गया था. अस्पताल के बर्न और प्लास्टिक सर्जरी विभाग के एचओडी डॉ. शलभ कुमार ने पीड़िता के निधन की पुष्टि की और कहा, रात करीब 11.10 पर पीड़िता के हृदय ने काम करना बंद कर दिया. डॉक्टरों की तमाम कोशिशों के बावजूद उसकी हालत में कोई सुधार नहीं हुआ और रात 11.40 पर उसकी मौत हो गई.

90 प्रतिशत से भी ज्यादा जल चुकी पीड़िता ने अंत तक हार नहीं मानी थी. गुरुवार रात 9 बजे तक वह होश में थी. जब तक होश में थी कहती रही- 'मुझे जलाने वालों को छोड़ना मत.' फिर नींद में चली गई, डक्टरों ने पूरी कोशिश की, वेंटिलेटर पर रखा लेकिन वो नहीं उठी.

यह भी पढ़ें : हैदराबाद एनकाउंटर की तरह दरिंदों को सजा मिले, उन्नाव पीड़िता के पिता ने की मांग

उन्नाव जिले के बिहार थाना क्षेत्र में दुष्कर्म पीड़िता को 5 दिसंबर को ज्वलनशील पदार्थ से जलाने का प्रयास किया गया. रायबरेली जाने को सुबह रेलवे स्टेशन जा रही दुष्कर्म पीड़िता युवती को कुछ लोगों ने आग लगा दी और भाग निकले. इसके बाद पास की एक गैस एजेंसी की गोदाम के गार्डों की सूचना पर पहुंची पीआरवी ने उसे सुमेरपुर सीएचसी पहुंचाया जहां से जिला अस्पताल लाया गया. हालत बेहद नाजुक होने के कारण उसको लखनऊ के सिविल हास्पिटल रेफर कर दिया गया. वह करीब 90 प्रतिशत जल गई थी और उसकी हालत काफी गंभीर थी.

दुष्कर्म पीड़िता को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल शिफ्ट किया गया. पीड़िता को एयर एंबुलेंस से दिल्ली ले जाया जा गया. जहां उसने अंतिम सांस ली. इस मामले में पुलिस ने पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया है.

First Published: Dec 07, 2019 12:12:25 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो