आजम के खिलाफ 26 किसान पहुंचे हाईकोर्ट, दायर की 'कैविएट एप्लीकेशन'

News State Bureau  |   Updated On : August 03, 2019 03:50:10 PM
प्रतीकात्मक फोटो।

प्रतीकात्मक फोटो। (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  आजम खान के खिलाफ 26 किसान पहुंचे हाईकोर्ट
  •  इलाहाबाद हाईकोर्ट में कैविएट एप्लीकेशन की दायर
  •  आजम पर शनिवार को एक और किसान ने मुकदमा दर्ज कराया है

प्रयागराज:  

सपा सांसद आजम खान (Azam Khan) की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. आजम खान (Azam Khan) के खिलाफ जबरन जमीन कब्जाने का मुकदमा दर्ज कराने वाले 26 किसान हाईकोर्ट पहुंचे हैं. किसानों ने इलाहाबाद हाईकोर्ट (Allahabad High Court) में कैविएट एप्लीकेशन (Caveat Application) दाखिल की है.

यह भी पढ़ें- उन्नाव रेप कांड: पीड़िता की हालत नाजुक, वकील को वेंटिलेटर से हटाया गया

किसानों की मांग है कि आजम खान की रिट याचिका कोर्ट में आने पर उनका पक्ष भी सुना जाए. जमीन पर कब्जा करने को लेकर रामपुर के अज़ीम नगर थाने में आजम खान के खिलाफ दर्ज हैं मुकदमे. वरिष्ठ अधिवक्ता विजय गौतम के मार्फत किसानों ने दाखिल की कैविएट एप्लीकेशन.

एक और मुकदमा दर्ज

रामपुर में सपा सांसद आजम खान, पूर्व सीओ आले हसन समेत तीन लोगों पर एक और किसान ने जमीन कब्जाने का मुकदमा दर्ज कराया है. किसान का आरोप है कि सपा शासनकाल में मंत्री रहते हुए आजम खान ने अपने रसूख का इस्तेमाल करके उसकी जमीन को जबरन हड़प लिया.

यह भी पढ़ें- उन्नाव रेप कांड: CBI को मिली ट्रक ड्राइवर और क्लीनर की रिमांड

आजम खान पर इस समय 30 से भी ज्यादा मुकदमे चल रहे हैं. बृहस्पतिवार को सपा सांसद आजम खान पर लगातार दर्ज हो रहे मुकदमों के विरोध में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने प्रदेश भर में प्रदर्शन किया. रामपुर में आजम खान के बेटे और विधायक अब्दुल्ला आजम खान को हिरासत में भी ले लिया गया.

आजम को मिला नोटिस

समाजवादी पार्टी (सपा) के वरिष्ठ नेता व सांसद आजम खान को पुलिस ने नोटिस जारी कर सुरक्षाकर्मियों को साथ न लेकर चलने पर कारण बताने को कहा है. पुलिस अधीक्षक डॉ. अजय पाल ने आजम खान को नोटिस जारी किया है.

यह भी पढ़ें- सेना की जासूसी में मुज़फ्फरनगर के युवक गिरफ्तार, मिलिट्री की फोटो भेजते थे सीमापार 

जारी किए गए नोटिस में डॉ. शर्मा ने पूछा है, "आप अपने साथ सुरक्षाकर्मी लेकर क्यों नहीं चल रहे हैं? इस नोटिस में पुलिस की तरफ से यह सलाह दी गई है कि आप राजकीय सुरक्षा, जो आपको प्रदान की गई है, उसे लेकर लेकर चलें. राजकीय सुरक्षा को साथ लेकर भ्रमण करने का कष्ट करें, ताकि कोई अप्रिय घटना न घटित हो सके."

First Published: Aug 03, 2019 03:50:10 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो