राहुल गांधी के इस्तीफे से आहत कांग्रेसी नेता ने मांगी इच्छा मृत्यु, राष्ट्रपति से की अपील

Manvendra Singh  |   Updated On : July 04, 2019 04:58:09 PM
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को भेजा पत्र दिखाते हसीब अहमद (पत्र लिए हुए)

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को भेजा पत्र दिखाते हसीब अहमद (पत्र लिए हुए) (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  राष्ट्रपति से इच्छा मृत्यु मांगने वाले हैं प्रयागराज से शहर कांग्रेस महासचिव हसीब अहमद.
  •  पत्र में लिखा जिस देश में गांधीवादी नेता को अनसुना कर दिया जाए, वहां जीने का फायदा नहीं.
  •  सोशल मीडिया पर उड़ रहा है जमकर मजाक, लोग कह रहे राष्ट्रपति उनकी इच्छा पूरी करें.

प्रयागराज.:  

कांग्रेस अध्यक्ष पद से राहुल गांधी के इस्तीफे पर पार्टी में शुरू हुआ नाटक हर रोज नई शक्ल अख्तियार करता जा रहा है. कोई उन्हें इस्तीफा वापस लेने के लिए खून से पत्र लिख रहा है, तो कोई आत्मदाह की धमकी दे रहा है. अब नया नाटक प्रयागराज में सामने आया है. वहां शहर कांग्रेस कमेटी के महासचिव हसीब अहमद ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को पत्र लिकर इच्छा मृत्यु की अनुमति मांगी है. इस पत्र के सार्वजनिक होते ही सोशल मीडिया पर भी प्रतिक्रियाओं की बाढ़ सी आ गई है.

यह भी पढ़ेंः अंडरवर्ल्ड DON दाऊद इब्राहिम को लेकर पाकिस्तान की सफाई पर विदेश मंत्रालय ने दिया ये जवाब

राष्ट्रपति को गुरुवार को पत्र लिख मांगी इच्छा मृत्यु
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को गुरुवार को लिखे पत्र में हसीब अहमद लिखते हैं, कांग्रेस अध्यक्ष पद से राहुल गांधी के इस्तीफे से करोड़ों कांग्रेस कार्यकर्ता आहत हैं. उन्होंने आगे लिखा है कि जिस देश में गांधी विचारधारा का नेतृत्व करने वाले नेता को लोग अनुसुना एवं अनदेखा कर दें, उस देश में जीने का कोई मतलब नहीं रह जाता है. इसके साथ ही उन्होंने देश की न्याय प्रणाली पर विश्वास रखते हुए इच्छा मृत्यु की अनुमति देने की मांग की है.

यह भी पढ़ेंः बीजेपी बैटमार विधायक के बाद अब कांग्रेस के कीचड़मार विधायक, पढ़ें पूरी खबर

सोशल मीडिया पर उड़ रहा है मजाक
कांग्रेस नेता के इस पत्र के सार्वजनिक होते ही सोशल मीडिया पर प्रतिक्रियाओं की बाढ़ सी आ गई है. नदीम नाम के शख्स लिखते हैं राष्ट्रपति महोदय...कभी-कभी इतिहास भी रच देना चाहिए. एक और शख्स लिखते हैं लोकतंत्र है, जिसमें सभी की राय का सम्मान होना ही चाहिए. अतः राष्ट्रपति महोदय बगैर देर किए उनकी इच्छा मृत्यु की मांग मान लें. जाहिर है इस तरह की नौटंकी से कांग्रेस की छवि पर विपरीत असर पड़ रहा है.

First Published: Jul 04, 2019 04:58:00 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो