गाजियाबाद में घर में घुसकर ग्राम प्रधान के बेटे की हत्या, पुलिस बता रही आपसी रंजिश का मामला

Dalchand  | Reported By : हिमांशु शर्मा/सोनू |   Updated On : July 15, 2019 08:17:09 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पुलिस भले ही ताबड़तोड़ एनकाउंटर कर रही है, लेकिन अपराधी लगातार बड़ी वारदातों को अंजाम दे रहे हैं. लोनी कोतवाली इलाके में देर रात बदमाशों ने गांव की महिला प्रधान के बेटे की गोली मारकर हत्या कर दी. मृतक की पहचान कसाना महमूदपुर गांव निवासी विक्रम के रूप में हुई है. बताया जा रहा है कि विक्रम की मां जगपति गांव की प्रधान हैं.

यह भी पढ़ें- दो पक्षों के बीच हुए विवाद को सुलझाने गई पुलिस को ही लोगों ने धुन दिया, एक अधिकारी को आईं चोटें

बताया जा रहा है कि देर रात बाइक पर तीन अज्ञात हमलावर आए और जबरन घर में घुस गए. जिसके बाद हमलावरों ने विक्रम पर अंधाधुंध गोलियां बरसा दीं. इस हमले में विक्रम को 2 गोलियां लग गईं, जिससे उसकी मौत हो गई. इस घटना को अंजाम देने के बाद सभी हमलावर बड़ी ही आसानी से मौके से फरार हो गए.

हत्या की सूचना मिलने के बाद पुलिस प्रशासन में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में एसएसपी सुधीर कुमार और एसपी ग्रामीण नीरज सिंह जादौन मौके पर पहुंचे. पुलिस अधिकारियों का कहना है कि ये आपसी रंजिश का मामला है. विक्रम का अपराधिक इतिहास भी रहा है. उन्होंने कहा कि जल्द ही बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा.

यह भी पढ़ें- मौलवी की दाढ़ी खींची, टोपी उछाली और 'जय श्री राम' बोलने को कहा, दाढ़ी काटने की धमकी दी

वहीं दूसरी ओर, गाजियाबाद में ही पुलिस और बदमाशों के बीच देर रात मुठभेड़ देखने को मिली. बंथला नहर के पास नाकेबंदी के दौरान रुकने के इशारे पर बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी. इस हमले में एक पुलिसकर्मी घायल हो गया. जबकि पुलिस की जवाबी फायरिंग में दो बदमाशों को गोली लगी. हालांकि दो बदमाश अंधेरे का फायदा उठाकर फरार हो गए. घायल बदमाशों के पास से एक पिस्टल, एक तमंचा, पर्स, मोबाइल और बाइक बरामद किए गए हैं. दोनों घायल बदमाशों पर एनसीआर में आधा दर्जन मुकदमे दर्ज हैं. फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Jul 15, 2019 08:17:09 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो