BREAKING NEWS
  • बिहार-झारखंड ब्रेकिंग : बिहार उपचुनाव- पांच सीटों पर आज हो रहा मतदान - Read More »
  • कमलेश तिवारी हत्याकांड में हुआ एक और खुलासा, अब सामने आया कानपुर कनेक्शन- Read More »
  • Amazon Great Indian Festival Sale: स्मार्टफोन्स पर 40% तक का मिल रही है छूट, जल्दी करें!- Read More »

विधानभवन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने फहराया तिरंगा

IANS  |   Updated On : August 15, 2019 05:16:25 PM
झंडारोहण करते सीएम योगी आदित्यनाथ।

झंडारोहण करते सीएम योगी आदित्यनाथ। (Photo Credit : )

लखनऊ:  

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आजादी की 73वीं वर्षगांठ पर विधानभवन के द्वार पर तिरंगा ध्वज फहराया और प्रदेश की जनता को स्वतंत्रता दिवस की बधाई दी. योगी ने कहा कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करना 'एक भारत श्रेष्ठ भारत' के निर्माण के लिए बहुत बड़ा सहासिक कार्य है. आजादी के बाद से ही देश इसे खत्म करने की जरूरत महसूस कर रहा था.

मुख्यमंत्री ने कहा, "इस निर्णय के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह का मैं हृदय से अभिनंदन करता हूं."

यह भी पढ़ें- UP के बुलंदशहर में थाने के सभी सिपाही और पुलिसकर्मी किए गए लाइन हाजिर, ये है वजह

योगी ने कहा कि यह स्वाधीनता दिवस एक संकल्प दिवस है. इस दिवस पर समाज के अंतिम पायदान पर बैठे हुए व्यक्ति तक शासन की योजनाओं का लाभ पहुंचाने और उनके जीवन स्तर को बेहतर बनाने के साथ-साथ भारत की अर्थव्यवस्था को दुनिया की सवरेत्तम अर्थव्यवस्था बनाने के संकल्प के साथ हम सभी जुड़ें.

यह भी पढ़ें- रक्षाबंधन के मौके पर राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने सीएम योगी को बांधी राखी, देखें Photo's

मुख्यमंत्री ने कहा, "प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में सरकार ने विगत 5 वर्षो में दुनिया में देश की छवि सुधारने के साथ ही नई कार्य संस्कृति को जन्म दिया है. आज हमारा देश विश्व की 5वीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है. प्रधानमंत्री जी ने भारत की अर्थव्यवस्था को 5 ट्रिलियन डलर बनाने का लक्ष्य रखा है. इस लक्ष्य को प्राप्त करने में उत्तर प्रदेश की बड़ी भूमिका है. इसके लिए उत्तर प्रदेश को भी अपनी अर्थव्यवस्था को 1 ट्रिलियन डॉलर पहुंचाने का लक्ष्य तय करके उसके लिए संकल्पबद्ध होकर कार्य करना पड़ेगा."

यह भी पढ़ें- पुलवामा में शहीद हुए अवधेश यादव की पत्नी से सीओ सदर ने बंधवाई राखी 

उन्होंने कहा, "2018 के इन्वेस्टर्स समिट में 5 लाख करोड़ रुपये से भी अधिक के निवेश के प्रस्ताव हमें प्राप्त हुए."

योगी ने कहा कि इस वर्ष राज्य में अनेक ऐसे आयोजन हुए, जिनसे उत्तर प्रदेश की विशिष्ट पहचान और साख बनी है. 15 जनवरी से 4 मार्च, 2019 तक प्रयागराज में कुंभ का सफल आयोजन हुआ. शताब्दियों बाद पहली बार कुंभ के अवसर पर अक्षयवट और सरस्वती कूप को श्रद्धालुओं के दर्शन के लिए खोला गया.

यह भी पढ़ें- भीम आर्मी के उपाध्यक्ष मंजीत सिंह नौटियाल पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज 

उन्होंने कहा कि विगत दो वर्षो से भारत सरकार की तमाम जनकल्याणकारी योजनाओं में उत्तर प्रदेश अपना एक स्थान बना रहा है. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने वर्ष 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करने का लक्ष्य रखा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश ने पौधरोपण का एक नया कीर्तिमान स्थापित किया है. प्रदेश में अगस्त क्रांति दिवस पर 22 करोड़ से अधिक पौधे लगाए गए.

First Published: Aug 15, 2019 05:16:25 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो