अयोध्या केस : मुस्लिम पक्ष ने वकील राजीव धवन को हटाया, फेसबुक पर लिखी ये बात

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 03, 2019 09:57:02 AM
राजीव धवन।

राजीव धवन। (Photo Credit : फाइल फोटो )

लखनऊ:  

अयोध्या राम जन्मभूमि विवाद में मुस्लिम पक्ष के वकील रहे राजीव धवन (Rajeev Dhawan) को केस से हटा दिया गया है. राजीव धवन (Rajeev Dhawan) ने फेसबुक पोस्ट (Facebook Post) के जरिए यह बात पब्लिक डोमेन में रखी है. उन्होंने लिखा कि 'मुझे यह कहते हुए केस से हटा दिया गया है कि मेरी तबीयत ठीक नहीं है, ये बिल्कुल बकवास बात है. जमीयत को हक है कि वह मुझे केस से हटा सकता है लेकिन जो वजह दी गई है वह गलत है'.

यह भी पढ़ें- घर में सो रहे बच्चों को गला दबाकर मार डाला, फिर पति-पत्नी ने 8वीं मंजिल से लगा दी छलांग

राजीव धवन (Rajeev Dhawan) ने कहा कि मुस्लिम पक्ष के वकील (एडवोकेट ऑन रिकॉर्ड) एजाज मकबूल ने मुझे बर्खास्त कर दिया है. वह जमीयत का मुकदमा देख रहे हैं. बिना किसी डिमोर के मुझे बर्खास्तगी का पत्र भेजा गया है. आपको बता दें कि राजीव धवन ने सुप्रीम कोर्ट में सुन्नी वक्फ बोर्ड और अन्य मुस्लिम पार्टियों का पक्ष रखा था. उन्होंने बताया कि मदनी ने मेरी बर्खास्तगी के बारे में मेरी तबीयत का हवाला दिया है. जो एक दम बकवास है.

यह भी पढ़ें- बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी में छात्रों और पुलिस में झड़प, चौकी प्रभारी सस्पेंड 

इससे पहले सोमवार को अयोध्या केस में सुप्रीम कोर्ट में पहली पुनर्विचार याचिका दाखिल की गई. पक्षकार एम सिद्दीकी की तरफ से 217 पन्नों की पुनर्विचार याचिका दाखिल की गई. इस पुनर्विचार याचिका में मांग की गई है कि संविधान पीठ के आदेश पर रोक लगाई जाए. जिसमें विवादित जमीन को रामलला विराजमान के पक्ष में दिया गया है.

यह भी पढ़ें- योगी सरकार का बड़ा फैसला, अब सर्किट हाउस में सिर्फ तीन दिनों तक रहने की होगी इजाजत 

याचिका में यह मांग भी की गई है कि सुप्रीम कोर्ट केंद्र सरकार को आदेश दे कि मंदिर बनाने के लिए ट्रस्ट का निर्माण न किया जाए. याचिका में कहा गया है कि जब मस्जिद फिर से बनेगी तभी न्याय होगा.

First Published: Dec 03, 2019 08:52:42 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो