पीसीएस(जे) में गोण्डा की बेटी आकांक्षा ने किया टाप, गंधर्व आए पांचवें नंबर पर

News State Bureau  |   Updated On : July 21, 2019 12:00:18 PM
गंधर्व के घर में मिठाई खिला कर खुशिया मनाते परिजन।

गंधर्व के घर में मिठाई खिला कर खुशिया मनाते परिजन। (Photo Credit : )

ख़ास बातें

  •  पीसीएस-जे में 51 प्रतिशत लड़किया उत्तीर्ण
  •  गोंडा की आकांक्षा और गंधर्व आए टॉप 5 में
  •  दोनों टॉपरों के घर लगा बधाई देने वालों का तांता

नई दिल्ली:  

गोण्डा जिले के विकास खंड बेलसर के देवरदा गांव निवासी शिवपूजन तिवारी की 29 वर्षीय बेटी आकांक्षा तिवारी ने पीसीएस (जे) की परीक्षा में टॉप करके पहला स्थान प्राप्त किया है. आकांक्षा के बाबा किसान हैं. पिता शिवपूजन रियल स्टेट के व्यवसाई हैं और माता गृहणी हैं.

यह भी पढ़ें- PCS-J का रिजल्ट जारी, 610 पदों पर 315 लड़कियां उत्तीर्ण

आकांक्षा के टॉप करने पर गांव में परिजनों को बधाई देने वालो का तांता लगा हुआ है. वहीं गोण्डा के लोगों ने आकांक्षा और टाप फाइव आए गंधर्व पटेल को बधाई दी है. पीसीएस जे के परिणाम की घोषणा होते ही गोण्डा के दो युवकों ने जिले का नाम रोशन किया है.

यह भी पढ़ें- पेट्रोल भराने के लिए पहुंचे 3 युवकों ने निकाला तमंचा और फिर लूट लिए पैसे, देखें VIDEO

जिनके घर बधाई देने वालों का तांता लग गया है. प्राथमिक विद्यालय के अध्यापक राम प्रताप वर्मा के छोटे बेटे गंधर्व पटेल ने पीसीएस-जे की परीक्षा में पांचवां स्थान प्राप्त किया है. गंधर्व के बड़े भाई कुछ दिन पूर्व ही इलाहाबाद में एसोसिएट प्रोफेसर नियुक्त हुए हैं.

यह भी पढ़ें- शादी से नाखुश मां ने की अपनी ही बेटी को कोर्ट परिसर से अगवा करने की कोशिश, पुलिस पकड़कर ले गई थाने

गंधर्व की माता भी अध्यापिका हैं और बाबा नकछेद वर्मा भी अध्यापक है. खोण्डारे स्थित पैतृक गांव में विद्यालय चला रहे हैं. गंधर्व के चाचा उदयप्रताप वर्मा गोण्डा मुख्यालय पर अधिवक्ता हैं. पिता राम प्रताप अध्यापक बनने से पहले पत्रकार थे.

पिता राम प्रताप ने बताया कि गांव से आकर गंधर्व को मुख्यालय के प्रतिष्ठित विद्यालय मे शिक्षा दीक्षा दिला कर वकालत शुरू कराई. हालांकि गंधर्व IAS बनना चाहता था. मैने सुझाव दिया कि पहले पीसीएस जे की तैयारी करो फिर आईएएस की तैयारी कर लेना.

First Published: Jul 21, 2019 12:00:18 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो