BREAKING NEWS
  • हरियाणा सरकार करवाना चाहती है राम रहीम-हनीप्रीत मुलाकात, जानिए क्या है वजह- Read More »

युवती से दुष्कर्म के बाद आगरा का शेल्टर होम सील, अभी भी चल रहे 6 अवैध शेल्टर होम

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : October 07, 2019 08:58:34 AM
प्रतीकात्मक फोटो।

प्रतीकात्मक फोटो। (Photo Credit : फाइल फोटो )

ख़ास बातें

  •  पीड़ित लड़की ने की थी आत्महत्या की कोशिश
  •  जांच के दौरान लड़कियों के पास मिले महंगे मोबाइल फोन
  •  40 बच्चे दूसरे शेल्टर होम में शिफ्ट की गईं

आगरा:  

उत्तर प्रदेश के आगरा के एक शेल्टर होम पर कई गंभीर आरोपों के बाद उसे सील कर दिया गया है. रविवार की शाम प्रशासन ने बिल्डिंग को सील करके यहां से 40 बच्चों को दूसरे शेल्टर होम में शिफ्ट किया. शेल्टर होम में रहने वाली एक युवती ने दुष्कर्म का आरोप लगाया था. युवती ने यमुना में कूद कर आत्महत्या की भी कोशिश की थी. राज्य महिला आयोग की टीम ने रविवार को दौरा किया. जहां टीम ने निरीक्षण के दौरान शराब व बीयर की खाली बोतलें और बाथरूम से कुछ आपत्तिजनक सामान बरामद किया था.

बिना रजिस्ट्रेशन चल रहे शेल्टर होम

आगरा में बाल कल्याणकारी संस्था महफूज से जुड़े एक कार्यकर्ता ने बताया कि यमुापार इलाके में चलने वाले ये शेल्टर होम किशोर न्याय अधिनियम जेजे एक्ट के तहत रजिस्टर्ड नहीं है. कई बार इसकी शिकायत भी की गई लेकिन प्रशासन की नींद नहीं टूटी.

यह भी पढ़ें- उत्तराखंड : पंचायत चुनाव के लिए पहले चरण का मतदान जारी, 10621 प्रत्याशी मैदान में

वह सिर्फ इसे नोटिस भेजता रहा. लेकिन अब जब एक बड़ा मामला उजागर हुआ तो प्रशासन ने होम को सील कर दिया है. जानकारी के मुताबिक जेजे एक्ट में बिना रजिस्ट्रेशन कराए छह शेल्टर होम और भी चल रहे हैं.

ये है पूरा मामला

3 अक्टूबर को शेल्टर होम में रहने वाली एक युवती ने आत्महत्या का प्रयास किया. जानकारी के मुताबिक युवती ने यमुना में छलांग लगा दी थी. जहां वह कूदी थी वहां पर पानी कम था. जिसके कारण उसके सिर में चोट आ गई थी. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां पुलिस ने उससे पूछताछ की. पूछताछ में उसने बताया कि शेल्टर होम में उसके साथ शारीरिक शोषण हुआ.

यह भी पढ़ें- उप्र उपचुनाव : घोसी में सपा उम्‍मीदवार का पर्चा रद होने के बाद लड़ाई अब इनके बीच 

युवती ने आरोप लगाया कि तीन साल से उसके साथ शोषण किया जाता रहा है. पुलिस ने इस मामले में फौरन कार्रवाई करते हुए तीन लोगों को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया. शेल्टर होम की युवती के द्वारा आत्महत्या के प्रयास की खबर सुनकर राज्य महिला आयोग की उपाध्यक्ष सुषमा सिंह और सदस्य निर्मला दीक्षित शेल्टर होम पहुंचीं.

यह भी पढ़ें- उत्तर प्रदेश के झांसी में हादसा, ट्रक और मैक्सी की टक्कर में 8 लोगों की मौत; सीएम योगी ने जताई संवेदना

जांच के दौरान वहां लड़कियों के पास महंगे-महंगे मोबाइल फोन मिले. परिसर में एक जगह शराब की बोतलें भी मिलीं. बाथरूम में यूज्ड कंडोम भी पाए गए. वहीं एक लड़की के मोबाइल की जब जांच हुई तो मोबाइल में अश्लील क्लीपिंग भी मिली.

First Published: Oct 07, 2019 08:58:34 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो