BREAKING NEWS
  • महिला सुरक्षा को लेकर मोदी सरकार का बड़ा फैसला, रेप से जुड़े मामले में 2 महीने में मिलें न्याय- Read More »

केरल: UPA के तहत गिरफ्तार किए गए दो छात्रों की जमानत याचिका खारिज

Bhasha  |   Updated On : November 06, 2019 03:13:07 PM
 दो छात्रों की जमानत याचिका खारिज

दो छात्रों की जमानत याचिका खारिज (Photo Credit : प्रतिकात्मक तस्वीर )

नई दिल्ली:  

अदालत ने केरल के कोझिकोड में गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम (यूएपीए) के तहत गिरफ्तार किए गए दो माकपा (CPI(M)) छात्र कार्यकर्ताओं की जमानत याचिका बुधवार को खारिज कर दी. गौरतलब है कि दो नवंबर को माकपा के छात्र कार्यकर्ताओं ताहा फजल और अलान सुहैब को कथित रूप से माओवादियों से सहानुभूति रखने और उनके कुछ पर्चे और सामग्री वितरित करने के आरोप में गैरकानूनी गतिविधियां रोकथाम अधिनियम (UPA) के तहत गिरफ्तार किया गया था. छात्रों की आयु लगभग 20 वर्ष है.

यह भी पढ़ें: क्‍या नरम पड़ गए शिवसेना के तेवर, किसानों के मुद्दों पर हुई बैठक में शामिल हुए मंत्री

छात्रों के वकील ने पत्रकारों को बताया कि प्रधान सत्र अदालत ने जमानत याचिकाएं खारिज कर दी है. उन्होंने बताया कि आदेश की प्रति मिलने के बाद ही जमानत याचिका खारिज करने के कारण का पता चल पाएगा. अदालत ने हालांकि वकीलों को आरोपियों से शाम में एक घंटा मिलने की अनुमति दे दी है.

यह भी पढ़ें: महाराष्ट्र का सियासी दंगल: अब क्या करेगी शिवसेना? शरद पवार ने तो गोल-गोल घुमा दिया

याचिकाकर्ता अपने खिलाफ दर्ज एफआईआर रद्द करने और जमानत की मांग को लेकर उच्च न्यायालय का रुख कर सकते हैं. अभी दोनों आरोपी 15 नवम्बर तक न्यायिक हिरासत में हैं. ताहा फजल के भाई और उसकी एक रिश्तेदार ने कहा कि उन्हें कानून पर विश्वास है और पुलिस ने ‘झूठे सबूत’ पेश किए हैं.

First Published: Nov 06, 2019 03:13:07 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो