BREAKING NEWS
  • हेलीकॉप्टर घोटाला: ईडी ने अदालत से राजीव सक्सेना की जमानत रद्द करने का किया अनुरोध- Read More »
  • चंद्रयान-2 समय पर लांच नहीं होने के बावजूद भी वैज्ञानिकों ने इसरो की तारीफ की, जानिए क्या है वजह- Read More »
  • साेते समय इन 16 बातों का अगर नहीं रखते ध्‍यान तो आपको बर्बाद होने से कोई नहीं बचा सकता - Read More »

स्पीकर ने कहा- 8 विधायकों के इस्तीफे सही प्रारूप में नहीं तो येदियुरप्पा बोले- आज SC के फैसले का इंतजार

News State Bureau  |   Updated On : July 11, 2019 11:59 PM
कर्नाटक के स्पीकर रमेश कुमार (ANI)

कर्नाटक के स्पीकर रमेश कुमार (ANI)

नई दिल्ली:  

कर्नाटक सरकार का सियासी ड्रामा का अब अंतिम फैसला विधानसभा अध्यक्ष को लेना है. सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बागी विधायक मुंबई से सीधे बेंगलुरु पहुंचे और स्पीकर से मुलाकात की. बागी विधायकों से मुलाकात के बाद स्पीकर रमेश कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की और लोगों को इस कर्नाटक की मौजूदा स्थिति के बारे में बताया है. उन्होंने कहा, मैं कोई फैसला जल्दबाजी में नहीं लूंगा. बागी विधायकों के इस्तीफों की जांच होगी.

यह भी पढ़ेंः Video: पैसे बचाने के लिए एयरपोर्ट पर एक शख्स ने किया कुछ ऐसा, लोग हंस-हंसकर हो गए लोटपोट

कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने कहा, जब मेरे ऊपर आरोप लगा कि मैं बागी विधायकों की सुनवाई में देरी कर रहा हूं तो मुझे दुख हुआ. राज्यपाल ने मुझे 6 जुलाई को सूचना दी थी. मैं तब तक पद पर था और बाद में मैं निजी काम के लिए चला गया. इससे पहले किसी भी विधायक ने यह जानकारी नहीं दी कि वे मुझसे मिलने आ रहे हैं.

कर्नाटक विधानसभा अध्यक्ष केआर रमेश कुमार ने आगे कहा, 6 जुलाई को मैं दोपहर 1.30 बजे तक अपने कक्ष में था. बागी विधायक दोपहर 2 बजे वहां आए. वह पूर्व में कोई मिलने की कोई अनुमति नहीं ले रखी थी. इसलिए यह गलत है कि मैं भाग गया, क्योंकि वे आ रहे थे. स्पीकर ने आगे कहा, सही प्रारूप में 8 विधायकों का इस्तीफा नहीं था, सिर्फ 4 विधायकों को ही इस्तीफा सही था. साथ ही मुझे ये देखने का भी अधिकार है कि बागी विधायकों ने इस्तीफा मनमर्जी से दी है या किसी के दबाव में.

यह भी पढ़ेंः World Cup Semi Final 2, ENG vs AUS Live: इंग्लैंड की ठोस शुरुआत, जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय क्रीज पर

उन्होंने आगे कहा, विधायक मुझसे बात नहीं करते हैं. वह तो सीधे राज्यपाल से बातचीत कर रहे हैं. इसमें मैं क्या कर सकता हूं. क्या इसका दुरुपयोग नहीं है? उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर की. मेरा दायित्व देश के इस राज्य और संविधान के लोगों के लिए है. मैं देरी कर रहा हूं, क्योंकि मुझे यह जमीन पसंद है. मैं जल्दबाजी में काम नहीं कर रहा हूं.
उन्होंने आगे कहा कि, मुझे पूरी रात इन इस्तीफों (बागी विधायकों के) की जांच करने और यह पता लगाने की आवश्यकता है कि क्या वे वास्तविक हैं. सुप्रीम कोर्ट ने मुझे फैसला लेने के लिए कहा है. मैंने हर चीज की वीडियोग्राफी की है और मैं इसे सुप्रीम कोर्ट भेजूंगा.

कर्नाटक विधानसभा के अध्यक्ष ने आगे कहा, बागी विधायकों ने मुझे बताया कि कुछ लोगों ने उन्हें धमकी दी थी और वे डर से मुंबई गए थे, लेकिन मैंने उनसे कहा कि उन्हें मुझसे संपर्क करना चाहिए और मैंने उन्हें सुरक्षा दी है. केवल 3 दिन बीत चुके हैं, लेकिन उन्होंने ऐसा कोई व्यवहार किया जैसे भूकंप आया हो.

उधर, बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा ने कहा, 10 बागी विधायकों ने स्पीकर को इस्तीफा दिया है, लेकिन इसे नामंजूर कर दिया है. जोकि सही नहीं है. सभी बागी विधायक वापस मुंबई चले गए हैं. आज हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करेंगे.  

First Published: Thursday, July 11, 2019 07:46 PM
Latest Hindi News से जुड़े, अन्य अपडेट के लिए हमें फेसबुक पेज,ट्विटर और गूगल प्लस पर फॉलो करें

RELATED TAG: Karnataka Assembly Speaker Kr Ramesh Kumar, Speaker Kr Ramesh Kumar, Rebal Mlas Resignations, Karnataka Crisis, Karnataka Political Crisis, Karnataka Coalition Crisis, Jds, Deve Gowda, Karnataka Political Drama,

डाउनलोड करें न्यूज़ स्टेट एप IOS और Android यूज़र्स इस लिंक पर क्लिक करें।

अन्य ख़बरें

Newsstate Whatsapp

न्यूज़ फीचर

वीडियो

फोटो