कोटाः बच्चों की मौत मामले की जांच के लिए दिल्ली से पहुंची 3 महिला सांसद

News State Bureau  |   Updated On : December 31, 2019 02:42:35 PM
कोटाः बच्चों की मौत मामले की जांच के लिए दिल्ली से पहुंची 3 महिला सांसद

कोटाः बच्चों की मौत मामले की जांच को दिल्ली से पहुंची 3 महिला सांसद (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

कोटा:  

जिले के जेके लोन अस्पताल में पिछले दिनों हुई 10 बच्चों की मौत मामले की जांच के लिए दिल्ली से कोटा पहुंची महिला सांसदों की टीम ने राजस्थान के चिकित्सा मंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि बच्चों की मौत के बाद भी वह अस्पताल नहीं पहुंचे. मंत्री नए साल का जश्न मनाने में व्यस्त हैं और दूसरी तरफ बच्चों की मौत हो रही है.

जेके लोन अस्पताल में 10 बच्चों की मौत के मामले में भाजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा के निर्देश पर भाजपा की तीन महिला सांसदों की टीम मंगलवार को कोटा पहुंची. जिसमें उत्तर प्रदेश की सांसद रीता बहुगुणा जोशी, दौसा सांसद जसकौर मीणा और वेस्ट बंगाल से सांसद लॉकेट चटर्जी ने जेके अस्पताल का दौरा कर व्यवस्थाएं देखीं. सांसदों की टीम ने अस्पताल के निरीक्षण के दौरान नाराजगी जताते हुए एक बेड पर दो-दो भर्ती बच्चों और टूटी हुई खिड़कियों को देखकर अस्पताल की व्यवस्थाओं पर सवाल उठाए.

यह भी पढ़ेंः राजस्थान : कड़ाके की ठंड में कांप रहा चूरू, 1 से 4 जनवरी तक बंद रहेंगे स्कूल

इसके बाद सांसदों का दल छतरपुरा निवासी परिवार से मिलने उनके घर पहुंचा. सांसदों ने चिकित्सा मंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि चिकित्सा मंत्री नये साल का जश्न मना रहे हैं, जोकि इतने बच्चों की मौत के बाद भी अस्पताल नही पहुंचे. उन्होंने कहा कि पूरी रिपोर्ट केंद्र सरकार को दी जाएगी.

यह भी पढ़ेंः राजस्थान: बंदूक की नोक पर आभूषण व्यापारी के परिवार को बंधक बनाकर 40 लाख रुपये की लूटपाट

बता दें कि राजस्थान के कोटा स्थित जेके लॉन अस्पताल में 48 घंटों में 10 बच्चों की मौत हुई थी. जिसके बाद से सियासत तेज हो गई. बीजेपी गहलोत सरकार पर जमकर वार कर रही है. वहीं राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत का शर्मिंदा करने वाला बयान सामने आया था. अशोक गहलोत ने कहा है कि पिछले छह साल में से इस साल सबसे कम बच्चों की मौत हुई है. पत्रकारों से बातचीत करते हुए मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा था कि पिछले छह साल में इस साल सबसे कम बच्चों की मौत हुई है.

First Published: Dec 31, 2019 02:42:35 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो