BREAKING NEWS
  • पाकिस्तान ने भारत को दहलाने की रची बड़ी साजिश, लश्कर समेत 3 बड़े आतंकी संगठन को सौंपा ये काम- Read More »
  • छोटा राजन का भाई उतरा महाराष्ट्र के चुनावी रण में, इस पार्टी ने दिया टिकट - Read More »
  • IND vs SA, Live Cricket Score, 1st Test Day 1: भारत ने टॉस जीता पहले बल्‍लेबाजी- Read More »

बीजेपी का गहलोत सरकार पर हमला, कहा- राज्य सरकार सामान्य वर्ग के आरक्षण में डाल रही है बाधा

News State Bureau  | Reported By : लालसिंह फौजदार |   Updated On : March 16, 2019 12:19:20 PM

(Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष और पूर्व मंत्री डॅा अरूण चतुर्वेदी ने आरोप लगाया है कि राजस्थान में  राज्य सरकार सामान्य वर्ग के आरक्षण मामले में दुर्भावना से कार्य कर रही है और सामान्य वर्ग को आरक्षण से वंचित रखना चाहती है. इसके लिए सरकार ने पहले तो नोटिफिकेशन जारी करने में देरी की और अब उसके बाद जाति प्रमाण पत्र और परिवार की परिभाषा में नया पैरा जोड़कर इसे कठिन बनाने का प्रयास किया है.

प्रदेश बीजेपी मुख्यालय में एक प्रेस वार्ता में उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने आरक्षण का नोटिफिकेशन 31 जनवरी को ही जारी कर दिया था. लेकिन राज्य सरकार ने इसे रोके रखा और बीजेपी की ओर से विधानसभा से लेकर सड़क तक धरने-प्रदर्शन व आन्दोलन के बाद 19 फरवरी को नोटिफिकेशन जारी किया गया, जिसकी गाइड लाईन 12 मार्च को बनायी गई. इसमें कुटुम्ब की परिभाषा और जाति प्रमाण पत्र बनाने के लिए अधिकृत अधिकारियों की सूची के माध्यम से कठिन बनाया गया.

डॅा चतुर्वेदी ने कहा कि केन्द्र के नोटिफिकेशन में कुटुम्ब की परिभाषा में आश्रित माता-पिता व 18 वर्ष से कम आयु के बच्चे शामिल है. जबकि राज्य सरकार के गाइड लाईन में परिवार की परिभाषा में आश्रित माता-पिता और 18 वर्ष से कम आयु के बच्चे के अलावा भाई-बहन को भी शामिल किया गया है. इससे सरकार की नीयत का पता चलता है.

उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि राजस्थान में अब तक एक भी जाति प्रमाण पत्र जारी नहीं हो पाए है. सामान्य वर्ग के आरक्षण में राज्य सरकार द्वारा बाधा पैदा की गई और इसकी प्रक्रिया को आसान बनाने की मांग करते हुए कहा कि राज्य सरकार तुरन्त जाति प्रमाण पत्र जारी करें.

First Published: Mar 16, 2019 12:15:08 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो