नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल में डेरा समर्थक की हत्या, अलर्ट पर पंजाब

News State Bureau  |   Updated On : June 23, 2019 10:36:35 AM
Patiala Range IG AS Rai

Patiala Range IG AS Rai (Photo Credit : )

नई दिल्‍ली:  

पंजाब के नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल में बंद डेरा सच्चा सौदा समर्थक मोहिंदरपाल सिंह ऊर्फ बिट्टू की हत्‍या के बाद राज्‍य में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है. बिट्टू पंजाब के बरगाड़ी में 2015 में हुए गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के मामले में मुख्य आरोपी था. उसे नाभा की हाई सिक्योरिटी जेल में रखा गया था. कैदियों के दो गुटों के बीच हुए आपसी विवाद के बाद मोहिंदरपाल सिंह ऊर्फ बिट्टू की हत्या की गई. मोहिन्दर पाल सिंह की हत्या के मामले में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जांच के आदेश दे दिए हैं.

यह भी पढ़ेंः जम्मू कश्मीर : शोपियां जिले में जारी है सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़, 4 आतंकी ढेर

बिट्टू पर कानूनी प्रक्रिया के तहत केस चल रहा था और वह फिलहाल न्यायिक हिरासत में नाभा जेल में बंद था. बिट्टू डेरा सच्चा सौदा की 45 सदस्यीय कमेटी का सदस्य था. पटियाला स्थित नाभा सेंट्रल जेल है और यहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रहती है. जेल अधिकारी ने बताया कि मोहिंदरपाल सिंह पर जेल में बंद दो अन्य कैदियों की तरफ से हमला किया गया था. जेल अधिकारी के मुताबिक, जेल में उसारी का काम चल रहा था, वहां पड़े लोहे की रॉड से कैदी महेंदर सिंह और गुरसेवक सिंह ने मोहिंदरपाल सिंह पर हमला कर दिया.

जेल अधिकारी ने बताया कि प्राथमिक जांच में बता चला है कि 49 साल के मोहिन्दर पाल सिंह पर गुरसेवक सिंह और मनिन्दर सिंह ने शनिवार शाम को सवा बांच बजे हमला किया था. इसके बाद उसे सिविल अस्पताल ले जाया गया जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.

पंजाब में सुरक्षा बढ़ाई गई

मोहिन्दर पाल सिंह की हत्या के मामले में सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने जांच के आदेश दे दिए हैं. सीएम ने कहा है कि दोषी को कड़ी सजा दी जाएगी. एडीजीपी जेल रोहित चौधरी इस जांच कमेटी के प्रमुख होंगे. रिपोर्ट के मुताबिक सीएम द्वारा बिठाई गई जांच न्यायिक जांच के अलावा होगी. बता दें कि मोहिन्दर पाल सिंह को पिछले साल गिरफ्तार किया गया था. घटना के बाद सीएम ने पूरे राज्य में सुरक्षा बढ़ाने के आदेश दिए हैं. सीएम ने लोगों से अपील की है कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें और शांति व्यवस्था बरकरार रखें. सीएम ने कहा कि घटना में शामिल दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी.

First Published: Jun 23, 2019 10:35:57 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो