अमरिंदर ने एनआरआई को दिया भरोसा, घोषित अपराधियों के लिए विशेष अदालतों के गठन का करेंगे प्रयास

भाषा  |   Updated On : November 12, 2019 06:48:41 PM
पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Photo Credit : फाइल फोटो )

जालंधर:  

पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह (Amarinder singh) ने पंजाबी प्रवासी समुदाय को भरोसा दिया है कि वह खालिस्तानी उग्रवाद के दिनों में राज्य से भागने के बाद भगोड़ा अपराधी घोषित किए गए लोगों के मामलों को शीघ्र निपटाने के लिए विशेष अदालतों के गठन की कोशिश करेंगे. पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने कहा कि वह इस मुद्दे को पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के साथ ही केंद्र सरकार के समक्ष भी उठाएंगे. उन्होंने प्रवासी भारतीयों के एक समूह द्वारा किए गए अनुरोध के जवाब में ये बात कही.

यह समूह गुरु नानव देव की 550वीं जयंती के अवसर पर इस समय पंजाब के जालंधर में आया हुआ है. एक आधिकारिक विज्ञप्ति में मंगलवार को कहा गया कि मुख्यमंत्री ने प्रवासी भारतीयों को सिख धर्म के संस्थापक की जीवन और दर्शन पर आधारित पुस्तक देकर सम्मानित किया. इसके अलावा प्रत्येक को एक स्मारक सिक्का और एक प्रतीक चिन्ह भी दिया गया.

इसे भी पढ़ें:बाढ़ पीड़ितों के लिए पंजाब के सीएम अमरिंदर सिंह ने खोला खजाना, 100 करोड़ रुपए देने की घोषणा

प्रवासी भारतीयों ने चिंता जताई थी कि विदेशों में रहने वाले कई लोग पंजाब आने और स्वर्ण मंदिर तथा अन्य पवित्र स्थलों के दर्शन करने में असमर्थ हैं, क्योंकि उन्हें कुछ मामलों में अदालतों के सामने उपस्थित नहीं हो पाने के चलते भगोड़ा अपराधी घोषित किया गया है.

और पढ़ें:पंजाब कैबिनेट का बड़ा फैसलाः अब 35 की बजाय 25 एकड़ में भी खुलेंगी प्राइवेट यूनिवर्सिटी

मुख्यमंत्री ने यह आश्वासन भी दिया कि वह केंद्र से बात करेंगे कि ब्रिटेन, कनाडा, जर्मनी, फ्रांस और अमेरिका जैसे कुछ भारतीय दूतावासों में इस मामले की विशेष अदालतें स्थापित करने की संभावनाएं तलाशी जाएं.

First Published: Nov 12, 2019 06:48:41 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो