BREAKING NEWS
  • बड़बोले इमरान खान ने बाबरी मस्जिद का मुद्दा उठाया, सिंध में तोड़े जा रहे मंदिर पर साधी चुप्पी- Read More »

गुजरात की तटरेखा से टकराते ही खतरनाक हो जाएगा वायु तूफान

Rahul Dabas  |   Updated On : June 13, 2019 07:05:00 AM
प्रतिकात्मक तस्वीर

प्रतिकात्मक तस्वीर (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

पूर्वी अरब सागर में फिलहाल वायु चक्रवात की स्थिति बनी हुई है. जो मौजूदा समय में मुंबई से 290 किलोमीटर और गुजरात से करीब 300 किलोमीटर दूर है. मुंबई और गोवा को चक्रवात सीधे तौर पर प्रभावित नहीं करेगा. बारिश की स्थिति मुंबई में फिलहाल बनी हुई है, समय बीतने के साथ वह हल्की पड़ेगी, लेकिन गुजरात और खास तौर पर कच्छ ,सौराष्ट्र का इलाका चक्रवात से सीधा प्रभावित होगा.


सभी एजेंसियां संपर्क में, तट छूते ही 170 किलोमीटर प्रति घंटे की चलेगी हवाएं

गुजरात का स्थानीय प्रशासन, राज्य सरकार ,गृह मंत्रालय ,एनडीआरएफ, एनडीएमए में समेत सभी एजेंसियां एक दूसरे के संपर्क में है. वायु चक्रवात 13 जून को सुबह तड़के गुजरात की तट रेखा को छू लेगा. उस समय हवा डेढ़ सौ से लेकर 170 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी.


तटरेखा छूने के 24 घंटे तक खतरनाक रहेगा वायु तूफान

वायु तूफान गुजरात की तटरेखा छूने के 24 घंटे बाद तक खतरनाक स्तर पर बना रहेगा, हालांकि जमीन पर उतरने के बाद चक्रवात का दबाव क्षेत्र घटता चला जाता है. फिर भी अभी हम यह नहीं कह सकते कि गुजरात के अलावा राजस्थान में इसका कुछ प्रभाव पड़ेगा या नहीं.

वायु की वजह से रुकी है मानसून की गति

जब भी कोई बड़ा चक्रवात आता है मानसून का रास्ता विरुद्ध हो जाता है, पहले ही मानसून करीब 1 सप्ताह देरी से चल रहा है और इस चक्रवात की वजह से इसमें और देरी हो सकती है. आज की तारीख तक मानसून मुंबई तक पहुंच जाता था, लेकिन अब सालों की तुलना में मानसून की गति मंद हो गई है, हालांकि मौसम विभाग को उम्मीद है कि वायु चक्रवात गुजरने के बाद मानसून की रफ्तार में तेजी आएगी.

First Published: Jun 12, 2019 03:03:09 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो