शर्मनाक: महाराष्ट्र में 4 शिक्षकों ने अपने स्कूल की छठी क्लास की छात्रा से किया गैंगरेप

News State Bureau  |   Updated On : January 19, 2020 10:52:17 PM
शर्मनाक: महाराष्ट्र में 4 शिक्षकों ने अपने स्कूल की छठी क्लास की छात्रा से किया गैंगरेप

सांकेतिक चित्र (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

नई दिल्ली:  

महाराष्ट्र के नांदेड़ जिले में 4 हैवानों ने गुरु और शिष्या की परंपरा को तार-तार कर दिया है. यहां पर चार शिक्षकों ने मिलकर अपने ही स्कूल की छठी क्लास की छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार किया. महाराष्ट्र में नांदेड़ जिले की बिलोली तहसील में यह मामला सामने आया है. रामतीर्थ पुलिस थाने में इन हैवानों के खिलाफ पॉक्सो एक्ट और धारा 376 के तहत मामला दर्ज कर लिया गया है. 

नांदेड़ जिले में जिला मुख्यालय से लगभग 50 किमी की दूरी पर स्थित शंकर नगर के पास साईंबाबा विद्यालय की एक छठीं क्लास की छात्रा को उसके 4 शिक्षकों ने अश्लील वीडियो दिखाकर सामूहिक दुष्कर्म किया. जैसे ही छात्रा के परिजनों को इस बात के बारे में जानकारी हुई विद्यालय परिसर में खलबली मच गई. पीड़ित छात्रा को निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती करवाया गया है. शिक्षकों की हैवानियत के बाद पीड़ित छात्रा जिंदगी और मौत के बीच जूझ रही है. 

यह भी पढ़ें-उत्तर भारत में पारे ने गोता लगाया, कश्मीर और हिमाचल में हाड़ गलाने वाली ठंड

स्थानीय पुलिस को जैसे ही इस घटना के बारे में जानकारी मिली तुरंत उन्होंने छात्रा के परीजनों को विश्वास में लेकर रामतीर्थ थाने में रिपोर्ट लिखवाई और आरोपी शिक्षकों सय्यद रसुल, दयानंद राजूरे, प्रदीप पाटील एवम धनंजय शेलके इन चार शिक्षकों समेत इनका साथ देनेवाली महिला कर्मचारी सूरेखा बनसोडे पर पॉक्सो एक्ट धारा 376 के तहत मामला दर्ज करवाया. इस घटना के चारो शिक्षक एवं एक महिला फरार है इस मामले की जांच डिप्टी एसपी सिद्धेश्वर धुमाल कर रहे है.

यह भी पढ़ें-तीस हजारी हिंसा: पुलिस की मोटरसाइकिल को आग लगाने वाले की हुई पहचान : पुलिस

आपको बता दें कि देश में निर्भयाकांड के बाद हाल ही में हूुआ तेलंगाना डॉक्टर महिला के साथ हुए अत्याचार के बाद महाराष्ट्र के नांदेड जिले में यह गंभीर मामला सामने आया है. नांदेड़ जिले में पिछले कई दिनों से पिड़ित तेरह वर्षीय बालिका शहर के अस्पताल में जिंदगी और मौत से जंग लड़ रही है. खेलने कूदने की उम्र में एक छात्रा का चार शिक्षकों ने बचपन छीन लिया है. यह मामला सामने आते ही जिले के विविध महिला एवं सामाजिक संगठनों की और से नाराजगी जाहिर करते हुए तुरंत आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा देने की मांग पर अड़ गए हैं.

First Published: Jan 19, 2020 10:50:52 PM

न्यूज़ फीचर

वीडियो