महाराष्ट्र में सरकार बनाने की जिम्मेदारी हमारी नहीं थी, बीजेपी छोड़कर भागी: संजय राउत

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : November 18, 2019 10:18:08 PM
संजय राउत

संजय राउत (Photo Credit : न्‍यूज स्‍टेट )

नई दिल्ली:  

महाराष्ट्र में सरकार के गठन (Maharashtra Govenrment) को लेकर कांग्रेस (Congress), एनसीपी (NCP) और शिवसेना (Shiv Sena) में असमंजस बरकरार है. इसे लेकर एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) सोमवार शाम को दिल्ली स्थित 10 जनपथ में कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मिलने पहुंचे हैं. दोनों के बीच करीब 50 मिनट तक बैठक चली. अब शिवसेना के सांसद संजय राउत शरद पवार से मुलाकात करने के लिए उनके आवास पहुंचे. जहां शिवसेना नेता संजय राउत ने एनसीपी प्रमुख से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत करते हुए बताया कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने की जिम्मेदारी हमारी नहीं थी. जिनकी सरकार बनाने की जिम्मेदारी थी वो लोग भाग गए, लेकिन अब मुझे विश्वास है कि हम जल्दी ही सरकार बना लेंगे.

इसके पहले महाराष्ट्र में पिछले 25 दिनों से सियासी घमासान मचा हुआ है. सरकार बनाने को लेकर लगातार शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी प्रयासरत है. शरद पवार राज्य की वर्तमान स्थिति से सोनिया गांधी को अवगत कराएंगे, क्योंकि शिवसेना ने सीएम पद की कुर्सी की मांग की है. इससे पहले मुख्यमंत्री पद को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच गठबंधन टूट गया है. इस बीच बीएमसी में मेयर पद का चुनाव है, जिसमें कांग्रेस ने भी अपना उम्मीदवार उतारने का फैसला किया है. इससे पहले कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी और राकांपा (एनसीपी) के अध्यक्ष शरद पवार के बीच रविवार को होने वाली बैठक कैंसिल हो गई थी.

यह भी पढ़ें-शरद पवार-सोनिया गांधी का बैठक के बाद महाराष्ट्र में सरकार बनाने को कांग्रेस ने कही ये बात

इसके बाद शरद पवार की अध्यक्षता में कल ही नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (NCP) की कोर कमेटी की बैठक पुणे में हुई. बैठक के बाद निकले राकांपा नेता नवाब मलिक (Nawab Malik) ने कहा कि महाराष्ट्र की वर्तमान स्थिति को लेकर दिल्ली में सोमवार को कांग्रेस की अंतिरम अध्यक्ष और शरद पवार के बीच बैठक होगी. वहीं, शिवसेना को समर्थन के मुद्दे पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी से बात करने दिल्ली पहुंचे एनसीपी नेता शरद पवार ने सूबाई सरकार के मसले पर दो टूक कह दिया कि बीजेपी-शिवसेना ने मिल कर चुनाव लड़ा था, वहीं जानें. इसके बाद राज्यसभा के 250वें सत्र को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एनसीपी की तारीफ कर संकेत दे दिए कि महाराष्ट्र का सियासी गणित किस करवट बैठने वाला है. गृह मंत्री अमित शाह का रविवार का 'डोंट वरी' वाला बयान तो नेताओं की पेशानी पर बल डालने वाला रहा ही है.

यह भी पढ़ें-महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर रामदास अठावले ने बीजेपी-शिवसेना को दिया ये नया फॉर्मूला

First Published: Nov 18, 2019 10:18:08 PM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो