महाराष्‍ट्र में राष्‍ट्रपति शासन लगाने की अटकलों पर राजभवन ने लगाया विराम

न्‍यूज स्‍टेट ब्‍यूरो  |   Updated On : November 12, 2019 02:03:12 PM
महाराष्‍ट्र में राष्‍ट्रपति शासन लगाने की अटकलों पर राजभवन ने लगाया वि

महाराष्‍ट्र में राष्‍ट्रपति शासन लगाने की अटकलों पर राजभवन ने लगाया वि (Photo Credit : File Photo )

नई दिल्‍ली :  

महाराष्‍ट्र के राजभवन ने राज्‍य में राष्‍ट्रपति शासन लगाए जाने की सिफारिश की अटकलों को खारिज कर दिया है. पहले कुछ मीडिया रिपोर्ट में खबर आई थी कि राज्‍यपाल भगत सिंह कोशियारी ने मंगलवार को राज्‍य में राष्‍ट्रपति शासन लगाने की सिफारिश कर दी है. एक दिन पहले ही राज्‍यपाल भगत सिंह कोशियारी ने एनसीपी को सरकार बनाने का न्‍यौता दिया था. एनसीपी से पहले राज्‍यपाल ने बीजेपी और शिवसेना को अलग-अलग सरकार बनाने का न्‍यौता दिया था. बीजेपी ने सरकार बनाने से इनकार कर दिया था, जबकि शिवसेना ने 24 घंटे की और मोहलत मांगी थी. राज्‍यपाल ने शिवसेना को मोहलत देने से इनकार करते हुए तीसरी सबसे बड़ी पार्टी एनसीपी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित कर दिया. एनसीपी को सरकार बनाने के लिए 24 घंटे में समर्थन पत्र जुटाने को कहा गया है.

यह भी पढ़ें : पहले शिवसेना-NCP-कांग्रेस में निकाह होने दीजिए, बाद में सोचेंगे कि बेटा होगा या बेटी, बोले असदुद्दीन ओवैसी

एनसीपी को राज्‍यपाल का न्‍यौता मिलने से सभी राजनीतिक दल भौंचक रह गए हैं. अब तक शायद ही किसी राज्‍यपाल ने तीसरे नंबर की पार्टी को सरकार बनाने का न्‍यौता दिया हो. राज्‍यपाल के न्‍यौते के साथ ही राज्‍य की राजनीति में सरगर्मियां भी बढ़ गई हैं. कांग्रेस ने अपने तीन वरिष्‍ठ नेताओं केसी वेणुगोपाल, मल्‍लिकार्जुन खड़गे और केसी वेणुगोपाल को मुंबई रवाना कर दिया है. बताया जा रहा है कि वहां कांग्रेस के तीनों नेता एनसीपी प्रमुख शरद पवार से बात करेंगे. 

यह भी पढ़ें : क्‍या बिखर रहा है एनडीए का कुनबा, महाराष्‍ट्र के बाद झारखंड में बीजेपी को लगा बड़ा झटका

कांग्रेस सीधे-सीधे शिवसेना के साथ जाने से बच रही है, इसलिए इस समय महाराष्‍ट्र की राजनीति में एनसीपी चीफ शरद पवार केंद्रबिंदु बने हुए हैं. शिवसेना भी उन्‍हीं से बात कर रही है और कांग्रेस भी. कांग्रेस और शिवसेना का आपस में कोई संवाद नहीं है. उद्धव ठाकरे की बात को शरद पवार सोनिया गांधी तक पहुंचा रहे हैं और सोनिया गांधी या कांग्रेस आलाकमान की बात को भी वे उद्धव ठाकरे को बता रहे हैं.

यह भी पढ़ें : पहले शिवसेना-NCP-कांग्रेस में निकाह होने दीजिए, बाद में सोचेंगे कि बेटा होगा या बेटी, बोले असदुद्दीन ओवैसी

कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता मल्‍लिकार्जुन खड़गे ने बताया, एनसीपी और कांग्रेस ने चुनाव पूर्व गठबंधन किया था. इस कारण महाराष्‍ट्र में सरकार बनाने को लेकर जो भी निर्णय होगा, वो सामूहिक होगा. एनसीपी से हमारी बातचीत जारी है और हम केवल एक बार आगे बढ़ेंगे, जब उनके साथ चर्चा की जाएगी. 

First Published: Nov 12, 2019 01:50:15 PM

RELATED TAG:

Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो