महाराष्ट्र: बैठक के बाद बोले पृथ्वीराज चव्हाण- कई मुद्दों पर अभी बातचीत अधूरी, आज भी जारी रहेगी बैठक

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : November 22, 2019 11:50:51 PM
महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

नई दिल्‍ली:  

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में बनने वाली नई सरकार को आकार देने के लिए शिवसेना, कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के शीर्ष नेताओं की शुक्रवार को बैठक हुई. इस बैठक में फैसला लिया गया है कि शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) महाराष्ट्र के सीएम (CM Post) बनेंगे. इस बैठक के बाद कांग्रेस और राकांपा ने साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. 

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र में सियासी घमासन खत्म, उद्धव ठाकरे बनेंगे महाराष्ट्र के सीएम; बैठक के बाद बोले शरद पवार

महाराष्ट्र के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चव्हाण ने कहा कि बैठक में सरकार बनाने को लेकर कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना के बीच सकारात्मक चर्चा हुई है. तीनों दल कई मुद्दों पर आम सहमति पर पहुंच गए हैं, लेकिन अभी कुछ मुद्दों पर चर्चा बाकी है, इसलिए शनिवार को भी बातचीत जारी रहेगी. जब पृथ्वीराज चौव्हान से शरद पवार के उद्धव ठाकरे को सीएम बनाने के पद वाले बयान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि मैं उस पर बात नहीं करूंगा. उनसे इन मुद्दों पर चर्चा होने के बाद इस मुद्दों पर बात करूंगा. 

वहीं, बैठक से निकले बाद कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा कि आज कांग्रेस-शिवसेना और एनसीपी की बैठक में कोई निर्णय नहीं निकल पाया है. कल भी तीनों दलों के बीच बैठक होगी. इससे पहले एनसीपी प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) ने कहा कि तीनों दलों ने उद्धव ठाकरे के नाम पर सहमति जताई है. सीएम के नाम का औपचारिक ऐलान के लिए तीनों दलों की ओर से शनिवार को एक साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस की जाएगी. हालांकि, अभी चर्चा जारी है. कल हम यह भी तय करेंगे कि महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर कब राज्यपाल से मिलना है. 

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र: शिवसेना-कांग्रेस और NCP के गठबंधन पर संकट, 'बेमेल शादी' पर सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर

सूत्रों ने बताया कि यह बैठक न्यूनतम साझा कार्यक्रम और नई सरकार में तीनों दलों की हिस्सेदारी को अंतिम रूप दिए जाने को लेकर हुई थी. इस बीच कांग्रेस और राकांपा ने अपने चुनाव पूर्व सहयोगियों-पीजेंट वर्कर्स पार्टी, समाजवादी पार्टी, स्वाभिमान पक्ष और माकपा से बातचीत की. राकांपा नेता जयंत पाटिल ने कहा कि उनकी पार्टी तथा कांग्रेस के छोटे सहयोगियों ने भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए शिवसेना के साथ मिलकर सरकार बनाने के विचार का समर्थन किया है.

First Published: Nov 22, 2019 07:59:06 PM

RELATED TAG:

Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो