BREAKING NEWS
  • इकबाल मिर्ची मामला: मीडिया से बचकर भागते दिखाई दिए प्रफुल्ल पटेल, देखें वीडियो- Read More »
  • होटल में खेल रहे थे बड़ा जुआ, पुलिस के हत्‍थे चढ़े 58 बड़े बिजनेसमैन- Read More »
  • श्रीलंका के लिए पाकिस्तान के होटल भी नहीं है महफूज, कमरे में कैद होकर रहे खिलाड़ी- Read More »

महाराष्ट्र: अगले विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना को मनाने के लिए बीजेपी चल सकती है ये दांव

News State Bureau  |   Updated On : June 13, 2019 10:22:21 AM

(Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

महाराष्ट्र सरकार अपने कार्यालय के अंतिम पड़ाव में मंत्रिमंडल विस्तार की तैयारी में है. जानकारी के मुताबिक इसके लिए बीजेपी शिवसेना को उपमुख्यमंत्री पद की पेशकश कर सकती है. दरअसल महाराष्ट्र विधानसभआ चुनाव में कुछ ही महीने बाकी है, ऐसे में माना जा रहा है कि गठबंधन की राह आसान करने के लिए शिवसेना को उपमुख्यमंत्री पद की पेशकश हो सकती है.  महाराष्ट्र सरकार में ज्यादा से ज्यादा से 42 मंत्री हो सकते हैं लेकिन अभी केवल 38 मंत्री ही मौजूह हैं और मंत्रिमंडल का विस्तार भी लंबे समय से नहीं हुआ है, ऐसे में माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस कैबिनेट का विस्तार कर सकते है.

कौन-कौन हो सकते हैं मंत्रिमंडल में शामिल?

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शिवसेना के सुभाष देसाई को उपमुख्यमंत्री पद की कुर्सी मिल सकती है. वहीं मंत्रियों की बात करें तो महाराष्ट्र में पूर्व विपक्ष नेता राधाकृष्णन विखे पाटिल अगर बीजेपी में शामिल होते हैं तो उन्हें भी मंत्रिमंडल में जगह मिल सकती है. इसके अलावा एनसीपी छोड़ कर शिवसेना में शामिल हुए जयदत्त क्षीरसागर को भी मंत्री पद की जिम्मेदारी दी जा सकती है.

मुख्यमंत्री पद को लेकर बीजेपी और शिवसेनाव में जारी टकराव

वहीं बात अगर मुख्यमंत्री पद की करें तो राज्य में शिवसेना और बीजेपी के बीच टकराव जारी है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शिवसेना का कहना है कि दोनों पार्टियों के बीच तय किया जा चुका है कि मुख्यमंत्री पद की जिम्मेदारी दोनों पार्टियों के बीच ढाई-ढाई साल की रहेगी. शिवसेना के सूत्रों के मुताबिक अमित शाह ने कहा था कि दोनों दलों में बराबर ज़िम्मेदारियां बांटी जाएंगी. ऐसे में मुख्यमंत्री पद भी दोनों के लिए बराबर होगा जिसके लिए दोनों पार्टियों के सीएम भी ढाई-ढाई साल के फार्मूले पर रहेंगे वहीं बीजेपी का कहना है कि इस बारे में पार्टी की तरफ से ऐसा कोई वादा नहीं किया गया है. ऐसे में माना जा रहा है कि विधानसभा चुनाव से पहले शिवसेना को उपमुख्यमंत्री पद की पेशकश कर बीजेपी इस टकराव को खत्म करने की कोशिश में है. 

First Published: Jun 13, 2019 10:20:39 AM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो