एनसीपी-कांग्रेस संग जाने का शिवसेना को हुआ नुकसान, बीजेपी ने भिवंडी में मारा मैदान

न्यूज स्टेट ब्यूरो  |   Updated On : December 06, 2019 11:41:49 AM
भिवंडी महानगर पालिका

भिवंडी महानगर पालिका (Photo Credit : फाइल फोटो )

मुम्बई:  

महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के एक साथ आने के बाद महा विकास अघाड़ी को बहुत बड़ा झटका लगा है. बीजेपी गठबंधन ने भिवंडी मेयर चुनाव जीत लिया है. हैरानी की बात है कि कांग्रेस के कॉरपोरेटर ने भी बीजेपी के पक्ष में वोट दिए. इस चुनाव में महाविकास अघाड़ी की तरफ से कांग्रेस का प्रत्याशी चुनाव मैदान में था. महाविकास अघाड़ी को ये झटका उद्धव सरकार बनने के महज एक हफ्ते के अंदर लगा है. भिवंडी महानगर पालिका में भाजपा गठबंधन ने मेयर पद पर कब्जा कर लिया. महाविकास अघाड़ी की ओर से कांग्रेस मेयर पद की रेस में थीं, लेकिन भाजपा समर्थित कोणार्क विकास आघाड़ी के उम्मीदवार ने शिकस्त देकर मेयर का चुनाव जीत लिया.

यह भी पढ़ेंः उद्धव ठाकरे को बड़ा झटका, 400 शिवसैनिक बागी होकर बीजेपी में हुए शामिल

भाजपा गठबंधन ने जीता चुनाव
चुनाव से पहले आंकड़े महाविकास अघाड़ी के पक्ष में थे. तीनों दलों को मिलाकर 90 सीट में से कुल 59 पार्षद थे, जबकि भाजपा समर्थित कोणार्क विकास आघाडी के पास सिर्फ 31 पार्षद थे. चुनाव परिणाम सामने आया तो नतीजा कुछ और था. कांग्रेस के 47 में से 18 पार्षदों ने बीजेपी के पक्ष में मतदान किया. कोणार्क विकास आघाडी की उम्मीदवार प्रतिभा पाटिल 49 वोट पाकर मेयर चुनी गईं, जबकि कांग्रेस उम्मीदवार रिषिका को सिर्फ 41 वोट मिले. 

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र में बदल सकता है फार्मूला, NCP को 16, शिवसेना को 15 और कांग्रेस को मिल सकते हैं 12 मंत्रालय

कांग्रेस के कॉरपोरेटर ने किया बीजेपी को वोट
कांग्रेस के 18 कॉरपोरेटर ने पार्टी लाइन से अलग जाकर बीजेपी के पक्ष में वोट किया. कांग्रेस ने भिवंडी यूनिट से उन कॉरपोरेटर्स के खिलाफ कार्रवाई की जानकारी ली है. कांग्रेस इन कॉरपोरेटरों के खिलाफ कार्रवाई कर सकती है.

First Published: Dec 05, 2019 06:51:08 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो