Exclusive: महाराष्ट्र में किसानों के मुद्दों को तरजीह दी जाएगी: विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले

मोहित राज दुबे  |   Updated On : December 03, 2019 09:14:48 PM
महाराष्ट्रविधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले

महाराष्ट्रविधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले (Photo Credit : न्यूज स्टेट )

नई दिल्‍ली:  

महाराष्ट्र में एक महीने की नूरा कुश्ती के बाद आखिरकार शिवसेना ने कांग्रेस और एनसीपी के समर्थन से सरकार बना ली. शिवसेना ने दूसरी बड़ी चुनौती महाराष्ट्र विधानसभा के स्पीकर के पद को भी निर्विरोध हासिल कर लिया और कांग्रेस के नेता नाना पटोले को विधानसभा अध्यक्ष बनाया गया है. नाना पटोले महाराष्ट्र के विदर्भ में सकोली विधानसभा क्षेत्र से कांग्रेस विधायक हैं. आपको बता दें कि नाना पटोले की पहचान तेज तर्रार नेता के तौर पर रही है. वह हमेशा से किसानों के मुद्दे को उठाते रहे हैं. वह विदर्भ के ओबीसी कुनबी समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं. नाना पिछले 32 सालों से सक्रिय राजनीति में शामिल हैं. 

महाराष्ट्र विधानसभा अध्यक्ष चुने जाने के बाद नाना पटोले ने हमारे सहयोगी चैनल न्यूज नेशन से बातचीत करते हुए बता या कि आने वाले समय में कैसे वो महाराष्ट्र की विधानसभा को पेपरलेस बनाएंगे और कैसे विधानसभा में किसानों के मुद्दों को उठाएंगें. इस एक्लूसिव इंटव्यू में नाना पटोले ने बताया कि महाराष्ट्र विधानसभा में किसानों के मुद्दों को तरजीह दी जाएगी और सभी दलों को एक ही भाव से देखा जाएगा. 

यह भी पढ़ें-पार्टी छोड़ने की अटकलों को पकजा मुंडे ने किया खारिज, कहा- मैं पार्टी की सच्ची और समर्पित कार्यकर्ता

जब विधानसभा अध्यक्ष नाना पटोले से भारतीय जनता पार्टी के नेता अनंत हेगड़े के उन आरोपों के बारे में पूछा गया जो उन्होंने सोमवार को महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस पर लगाए हैं. तब नाना पटोले ने इसका जवाब देते हुए कहा कि अगर वह विधानसभा में उठा तो उसकी जांच होनी चाहिए. नाना से जब महाराष्ट्र की सरकार स्थिर रहेगी या नहीं पर सवाल पूछा गया तब उन्होंने बताया कि महाराष्ट्र की सरकार पूरी तरह से स्थिर रहेगी क्योंकि महाराष्ट्र सरकार में गठबंधन की पार्टियों का नेतृत्व कुशल राजनीतिज्ञ शरद पवार कर रहे हैं. इसलिए अगले पांच सालों तक एनसीपी, कांग्रेस और शिवसेना के सहयोग से बनी सरकार पर कोई खतरा नहीं दिखाई दे रहा है. साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि मेरी कोशिश होगी कि सदन को स्मूथ चलाया जाए. 

यह भी पढ़ें-कैग ने की दिल्ली सरकार की तारीफ, 5 सालों में रेवेन्यू हुआ दोगुना : केजरीवाल

नाना ने बताया कि इस बार महाराष्ट्र विधानसभा में ज्यादातर नए विधायक चुनकर आए हैं और मैं इन सभी नवनिर्वाचित विधायकों को जानता हूं. नाना ने आगे बताया कि जब मैं महाराष्ट्र स्पीकर बना तो पूरे देश में कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने जश्न मनाया इसके पीछे वजह यह थी कि मैंने किसानों को लेकर पूरे देश भर में आंदोलन किया और किसानों की हक की लड़ाई लड़ी. मैंने लोकसभा स्पीकर ओम बिरला से मुलाकात की है लोकसभा के बहुत सारे मॉडल विधानसभा में लागू किए जाएंगे. मेरी कोशिश रहेगी की जल्दी से जल्दी महाराष्ट्र विधानसभा भी पूरी तरह से पेपरलेस हो जाए.

First Published: Dec 03, 2019 09:14:48 PM
Post Comment (+)

न्यूज़ फीचर

वीडियो