नाले किनारे जहरीली सब्जी उगाने और बेचने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई, सरकार ने दिए निर्देश

Dalchand  |   Updated On : August 05, 2019 11:28:23 AM
फाइल फोटो

फाइल फोटो (Photo Credit : )

नई दिल्ली:  

मध्य प्रदेश में मिलावटखोरों पर शिकंजा कसने के बाद कमलनाथ सरकार ने नया मिशन शुरू कर दिया है. दूध, मावा के बाद अब नाले किनारे जहरीली सब्जी उगाने और बेचने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. राज्य के स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट कहा कि नाले किनारे उगाई जा रही हानिकारक सब्जियों के खिलाफ मुहिम शुरू की जाएगी. जिसके लिए अधिकारियों को जांच के निर्देश दिए गए हैं.

यह भी पढ़ें- बीजेपी नेताओं की लगेगी क्लास, RSS के सह सरकार्यवाह कृष्ण गोपाल लेंगे बैठक

स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट ने कहा कि मैंने भी सब्जियां बेची हैं, इसलिए मुझे पता है कि आजकल किस तरह बाजार में जहरीली सब्जियां बेची जा रही है. ऐसे लोगों के खिलाफ अब कठोर कार्रवाई की जाएगी. मध्य प्रदेश में अब दूध-मावे-सब्जी के बाद खाद-बीज की भी जांच होगी. कृषि मंत्री सचिन यादव ने एक बयान जारी करते हुए कहा कि खाद-बीज में गड़बड़ी करने वालों पर भी सख्त कार्रवाई की जाएगी और इसके लिए खाद-बीज के सैंपल लेने का काम जारी है.

यह भी पढ़ें- त्योहारों के बीच बच्चा चोरी की अफवाहों से मध्य प्रदेश पुलिस चिंतित, फिर से जारी करना पड़ा यह आदेश

गौरतलब है कि मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार प्रदेश में मिलावटखोरी पर पूरी तरह सख्त हो चुकी है. राज्य में एक तरफ जहां दूध उत्पाद बनाने और बेचने वाली डेयरियों पर छापे मारे जा रहे हैं, वहीं सड़कों से गुजरते दूध के टैंकर व वाहनों की जांच की जा रही है. मिलावटखोरों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत भी कार्रवाई की जा रही है. इतना ही नहीं सरकार ने मिलावटखोरी को खत्म करने के लिए सूचना देने वालों के लिए ईनाम की घोषणा की है. सरकार ने मिलावटखोरों की सूचना देने वाले को 11 रुपये इनाम देने का ऐलान किया है.

यह वीडियो देखें- 

First Published: Aug 05, 2019 11:28:23 AM
Post Comment (+)

LiveScore Live Scores & Results

न्यूज़ फीचर

वीडियो